हरदा जिले में शुक्रवार को खिरकिया तहसील मुख्यालय पर किसानों की खाद लेने को लेकर लगी लंबी लाइन देखी गई थी। इसके बाद प्रशासन ने जिले में खाद की कोई भी कमी नहीं होने का दावा किया है।

जानिए अभी कितनी मात्रा है उपलब्ध

कृषि उप संचालक एमपीएस चंद्रावत ने बताया कि हरदा जिले में किसानों की जरूरत के मुताबिक पर्याप्त मात्रा में खाद उपलब्ध है। जिले में इस समय 11910 मीट्रिक टन यूरिया उपलब्ध है। जबकि गत वर्ष 8317 मीट्रिक टन यूरिया ही उपलब्ध था। इसी तरह जिले में इस समय 12677 टन डीएपी उर्वरक उपलब्ध है, जबकि गत वर्ष 11121 मीट्रिक टन ही उपलब्ध था। जिले में 1090 मीट्रिक टन म्यूरेट ऑफ पोटाश उपलब्ध है, जबकि गत वर्ष पोटाश उर्वरक केवल 680 मीट्रिक टन ही उपलब्ध था। उप संचालक चंद्रावत ने बताया कि इसके अलावा जिले में इस समय 2532 मीट्रिक टन कॉम्प्लेक्स उर्वरक भी उपलब्ध है।

​​​​​​कलेक्टर ने तैनात किए अफसर

उधर, किसानों को खाद मिलने में हुई परेशानी के बाद प्रशासन सख्त हो गया है। कलेक्टर ऋषि गर्ग ने ने उर्वरक वितरण व्यवस्था पर नजर रखने के लिए नायब तहसीलदारों, तहसीलदारों एवं तीनों एसडीएम को सहकारी समितियों एवं कृषि विभाग के अधिकारियों को निजी खाद विक्रेताओं के दुकानों पर तैनात किया गया है। ताकि किसी भी किसान को खाद मिलने में दिक्कत ना हो। कलेक्टर गर्ग ने किसानों से अपील की है कि खाद की कोई कमी नहीं है। लगातार खाद की रेक लग रही है। किसानों को खाद उनकी जरूरत के मुताबिक खाद उपलब्ध कराई जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *