mandsaur ki khabar: मंदसौर में वर्तमान सचिव से सेटिंग करानें के लिए पूर्व सचिव को 10,000 रूपए की रिश्वत लेते हुए लोकायुक्त टीम ने गिरफ्तार किया है। लोकायुक्त टीम ने सचिव को अपनी गिरफ्त में लेकर कार्यवाही शुरू की है। जानकारी में बताया गया है कि लोकायुक्त द्वारा कार्यवाही देर शाम सचिन के घर पर ही की गई और सचिन को रिश्वत लेते पकड़ा गया।

mandsaur ki khabar: डीएसपी सुनील तालान ने जानकारी देते हुए बताया कि मुबारिक खान पिता इब्राहिम खान निवासी बोतल गंज में कार्यालय पर आकर शिकायत दर्ज करवाई थी कि उनके पत्नी और बेटे के नाम पर बोतल गंज में एक एक भूखंड है। आज से करीब 2 साल पहले पत्नी और बेटे ने इस भूखंड पर मकान बनाने की अनुमति प्राप्त करने के लिए बोतल गंज सरपंच के नाम आवेदन लिखा था। उस समय के सचिव शंभू सिंह चौहान ने आवेदन अपने पास रख लिया। इसके कुछ दिनों बाद सचिव संभोग से का दूसरी ग्राम पंचायत में स्थानांतरण हो गया।

mandsaur ki khabar: कुछ दिन पहले जब मुबारिक पूर्व सचिव शंभू सिंह चौहान से बातचीत करने पहुंचे और आवेदन के विषय में चर्चा की तो शंभू सिंह चौहान ने वर्तमान सचिव से आवेदन के लिए बात करने और काम पूरा कराने के लिए ₹30000 की मांग की। इस बात को लेकर 17 अक्टूबर को मुबारिक खान ने इसकी शिकायत लोकायुक्त कार्यालय उज्जैन में दर्ज करवाई। इसके बाद पंचायत सचिव एवं मुबारिक के बीच रिश्वत की डिमांड रिकॉर्ड करवाई गई। इसमें मुबारिक खान ने पूर्व सचिव शंभू सिंह को फिलहाल ₹10000 देने और बाकी पैसे काम पूरा होने के बाद देने की बात कही।

mandsaur ki khabar: रिकॉर्ड के आधार पर फरियादी मुबारिक को केमिकल लगे 10 हजार रुपए दिए गए। इसके बाद देर शाम जब मुबारिक ₹10000 लेकर पूर्व सचिव शंभू सिंह के घर पहुंचा और पैसे देने लगा तो लोकायुक्त टीम ने पहुंचकर रंगे हाथों पूर्व सचिव शंभू सिंह को गिरफ्तार कर लिया। लोकायुक्त की टीम मामले की जांच कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *