Kisan News:केंद्र सरकार की कैबिनेट बैठक में दिवाली से पहले किसानों को सरकार की तरफ से तोहफा दिया गया है। कैबिनेट बैठक में केंद्र सरकार किसानों के हित में कई अहम फैसले लिए। प्रधानमंत्री मोदी जी की कैबिनेट की बैठक में आज रबी फसलों के MSP को बढ़ाने का फैसला लिया गया है।कैबिनेट ने मार्केटिंग सीजन 2023-24 के लिए रबी फसलों की MSP को बढ़ाने का फैसला लिया है। रबी फसलों के MSP में 3 से 9 फीसदी तक की बढ़त को मंजूरी दी है। आपको बता दें कि केंद्र सरकार गेंहू और दालों सहित 6 फसलों के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य का निर्धारण करती है। इन 6 फसलों में गेहूं ,चना, मसूर, सरसों जैसी फसलें शामिल है।

Kisan News: सूचना और प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने सरकार द्वारा बैठक में लिए गए फैसले के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि केंद्रीय मंत्रिमंडल ने विपणन सीजन 2023-24 के लिए सभी रबी फसलों के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) को मंजूरी दे दी है। इसके तहत दलहन (मसूर) के एमएसपी में 500 रुपये प्रति क्विंटल की पूर्ण उच्चतम वृद्धि की गई है। यह भी जान लें कि MSP कमेटी ने रबी की 6 फसलों के लिए 9 फीसदी तक की MSP बढ़ाने की सिफारिश की थी। इसके बाद कृषि मंत्रालय ने भी इन फसलों पर न्यूनतम समर्थन मूल्य बढ़ाने की सिफारिश की और केंद्रीय कैबिनेट ने इस पर मुहर लगा दी।

Kisan News: केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने इस बात की जानकारी देते हुए कहा कि कैबिनेट ने गेहूं, मसूर, जौ और चना समेत रबी की अन्य फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य बढ़ा दिया गया है। केंद्र सरकार ने मसूर की MSP में 500 रुपए प्रति क्विंटल की बढ़ोतरी की गई है। साथ ही सरसों का समर्थन मूल्य भी 400 रुपए प्रति क्विंटल बढ़ा दिया गया है। सूरजमुखी पर भी न्यूनतम समर्थन मूल्य 400 रुपए प्रति क्विंटल कर दिया गया है। गेहूं की MSP में 110 रुपए प्रति क्विंटल बढ़ोतरी का फैसला लिया गया है, जबकि Barley का MSP 100 रुपए प्रति क्विंटल किया गया है। इन सभी फसलों के MSP रेट में बैठक के दौरान वध्दी दी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *