Madhya Pradesh News:- सीहोर की पुलिस पर आरोपियों को संरक्षण देने और रेप पीड़िता पर समझौता करने का दबाव बनाने के आरोप लग रहे हैं। दरअसल, सोमवार को पीड़िता और उसके परिजनों ने पुलिस अधीक्षक मयंक अवस्थी को लिखित आवेदन दिया जिसमें पीड़िता ने अहमदपुर थाना ​​​​​​ टीआई शैलेन्द्र तोमर पर गंभीर आरोप लगाए हैं। साथ ही एक औडियो रिकार्डिंग भी पुलिस को सौंपी है जिसमें थाना प्रभारी पीड़ित पक्ष के साथ अभ्रद भाषा में बात करते सुनाई दे रहे हैं।

ये है मामला

Madhya Pradesh News:- बीते अगस्त महीने में रेप पीड़िता अपने पिता के साथ सीहोर कोर्ट में बयान दर्ज कराने जा रही थी। तभी रास्ते में कुछ लोगों ने युवती के साथ मारपीट कर उसका अपहरण करने का प्रयास किया। जिसकी शिकायत युवती ने दोराहा थाने में दर्ज कराई थी। जिसमें युवती ने भाजपा नेता सीलखेड़ा गांव के सरपंच हेमराज मीणा, गोलू मीणा और रोहित मीणा के खिलाफ प्रकरण दर्ज कराया था। घटना को करीब एक माह से अधिक समय बीत चुका है लेकिन आरोपी सरपंच अभी भी फरार है और पुलिस गिरफ्त से बाहर है।

फरार आरोपी दे रहा धमकी, टीआई ने की अभ्रदता

Madhya Pradesh News:- पीड़िता का आरोप है कि फरार आरोपी भाजपा नेता हेमसिंह मीणा उसके परिजन और उस पर राजनीमा करने के लिए दबाव बना रहा है। वह घर पर धमकी भरे पत्र भेजता है जिनमें जान से मारने की बात लिखी है। जब इस बात की शिकायत करने वह थाना अहमदपुर टीआई शैलेन्द्र तोमर के पास गए तो उन्होंने हमारी शिकायत न दर्ज करते हुए हम पर भी राजनीमे के लिए दबाव बनाया और अभद्रता की। पीडित पक्ष ने एक औडियो रिकार्डिंग भी एसपी को सौंपी।

मैंने नहीं की अभ्रदता

Madhya Pradesh News:- मामले में शैलेन्द्र तोमर का कहना है कि पीड़िता मेरे पास शिकायत दर्ज कराने नहीं आई। मैने किसी के साथ अभ्रदता नहीं की, आरोप झूठे हैं।

आरोपी की तलाश की जा रही है

Madhya Pradesh News:- अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सीहोर गीतेश गर्ग इस संबंध में कहते हैं कि आरोपी सरपंच की गिरफ्तारी को लेकर कुछ लोगों ने शिकायत दी है। औडियो रिकार्डिंग नहीं दी गई। आरोपी की तलाश की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *