मध्यप्रदेश न्यूज़: सीहोर जिले में मंगलवार को खाद यूरिया विक्रय केंद्र पर अजीब नजारा देखने को मिला। खाद के लिए यहां किसानों को परेशान होना पड़ रहा है। यहां यूरिया के लिए लंबी-लंबी कतारों में इंतजार करना पड़ रहा है। इस दौरान किसानों ने नंबर लगाने के लिए अपनी ऋण पुस्तिका को एक कतार में रख दिया।

खाद नहीं मिली तो की नारेबाजी

मध्यप्रदेश न्यूज़: जानकारी के अनुसार, सीहोर जिले में इस साल भी खाद यूरिया के संकट का सामना करने के लिए किसान मजबूर है। मंगलवार को विक्रय केंद्र पर किसानों को काफी मशक्कत करनी पड़ी। देखा गया कि किसान दूर-दूर के ग्राम से खाद और यूरिया लेने आए। लेकिन जब उन्हें नहीं मिला तो जमकर नारेबाजी हुई। इसके बाद भी कोई जिम्मेदार अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचे, तो किसान निराश होकर लौटने को विवश हुए।

जिले में खाद का पर्याप्त भंडार

मध्यप्रदेश न्यूज़: इस संबंध में उपसंचालक कृषि केके पांडेय का कहना है कि जिले में 7 हजार मैट्रिक टन यूरिया और 6500 मैट्रिक टन डीएपी का भंडार है। लेकिन ग्राम खंडवा और निपानिया के किसान 50 -50 बोरी मांग रहे है, जबकि विक्रय केंद्र 20 बोरी दे रहा है। ग्राम में मार्कफेड की आईडी नहीं बनने से इन्हें शहर आकर यूरिया लेना पड़ रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *