Mp electricity news:- प्रदेश की बिजली कंपनियों के 40 हजार पेंशनरों की बतौर पेंशन राशि 170 करोड़ रुपए अटक गई है। इसे लेकर कंपनियों में हड़कंप है। पर्याप्त बजट नहीं होने के कारण ऐसा होना बताया गया है। अधिकारियों एवं कर्मचारियों के फोरम ने कहा कि प्रदेश में ऐसा पहली बार हुआ है। जबकि बिजली कंपनियों के पेंशनरों को समय पर पेंशन नहीं मिली।

Mp electricity news:- मप्र पावर ट्रांसमिशन कंपनी के चीफ फाइनेंसर ऑफिसर ने ट्रांसमिशन कंपनी के दायरे में आने वाले टर्मिनल बैनिफिट ट्रस्ट, टीबीटी के सेक्रेटरी को लिखी चिठ्ठी में यह जिक्र किया है कि 392 करोड़ रुपए में से सिर्फ ₹35 करोड़ रुपए ही मिले। इस वजह से पेंशनरों को पेंशन नहीं मिल सकी। पेंशन नहीं मिलने से परेशान पेंशनर्स फोरम फॉर पावर एंप्लाइज एवं इंजीनियर्स के बैनर तले लामबंद हो गए। मप्र पावर ट्रांसमिशन कंपनी के एमडी सुनील तिवारी ने बताया कि अभी पेंशनरों को पेंशन नहीं मिल सकी है। एक-दो दिन में पेंशन जारी कर दी जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *