breaking news

Breaking news : बेंगलुरु में नगर निगम का बुलडोजर एक मकान गिराने पहुंचा तो दंपती ने रास्ता रोक लिया। उन्होंने अफसरों को धमकी दी कि घर गिराया तो वह खुद को आग लगा लेंगे। दंपती ने अपने ऊपर पेट्रोल छिड़का। आग लगाने के लिए तीली जलाई, लेकिन नहीं जली, आगे क्या हुआ यह जानने से पहले

पुलिस और पड़ोसियों ने बचाया

दंपती को आग लगाते देख पुलिस और पड़ोसियों ने मिलकर किसी तरह उन्हें बचाया। पड़ोसियों ने उन पर पानी उड़ेला और उनके हाथ से पेट्रोल की बोतल छीन ली। दरअसल, बेंगलुरु में इन दिनों डिमोलिशन ड्राइव चल रही है, जिसमें शहर के ड्रेनेज को ब्लॉक करने वाले अवैध निर्माणों को ढहाया जा रहा है। इसी ड्राइव के तहत बुधवार को केआर पुरम् के एसआर लेआउट में अवैध निर्माण गिराने के लिए नगर निगम का बुलडोजर पहुंचा था।

पुलिस और पड़ोसियों ने बचाया

शुरुआत से अंत तक पूरा घटनाक्रम जानिए

सोना सेन और सुनील सिंह नाम के इस दंपती के घर नगर निगम की टीम पहुंची तो घर की दीवार से सहारे खड़े हो गए और अपने ऊपर पेट्रोल डालकर आत्मदाह की धमकी देने लगे। इस दौरान पुलिस वाले और पड़ोसी कपल को समझाया कि वह आवेश में आकर कोई कदम न उठाएं।

सोना सेन ने उनकी बात नहीं मानी, साथ ही पति और खुद पर बॉटल से पेट्रोल छिड़कती रही। उसने माचिस की तीली निकाली। उसे जलाने की कोशिश की तो वह नहीं जली। तभी ऊपर खड़े कुछ लोगों ने बाल्टी से उन पर पानी डाल दिया। आसपास खड़े लोगों ने पति-पत्नी पकड़कर ऊपर खींच लिया। इसके बाद फायर फाइटर्स ने भी उन पर पानी की बौछार कर दी।

लोगों ने नगर निगम के अफसरों से भी अपील की कि वे घर को गिराने की कार्रवाई कुछ देर के लिए रोक दें। इसके बाद पड़ोसियों और पुलिस ने दोनों को घर के अंदर खींचा। इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *