barish ke aasar

मध्यप्रदेश में इस बार बारिश ने कई रिकॉर्ड तोड़े हैं। अकेले राजधानी भोपाल में 73 इंच से ज्यादा बारिश हो चुकी है, जबकि छिंदवाड़ा, नर्मदापुरम, रायसेन और राजगढ़ में बारिश का आंकड़ा 60 इंच से ज्यादा पहुंच चुका है। बीते 24 घंटों के दौरान 24 से ज्यादा जिलों में पानी गिरा। शुक्रवार दोपहर सबसे ज्यादा करीब डेढ़ इंच बारिश इंदौर में हुई। भोपाल में तो भदभदा डैम के गेट खोलने पड़े।

मौसम विभाग ने अगले 24 घंटों के दौरान भोपाल समेत 18 जिलों में येलो अलर्ट जारी किया है। यहां कहीं-कहीं हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है। इसके बाद 3 दिन तक मध्यप्रदेश में बारिश पर विराम लग सकता है। 21 और 22 सितंबर को भी प्रदेश भर में बारिश होने की संभावना है।

भोपाल के भदभदा-कलियासोत डैम के गेट खुले
भोपाल में गुरुवार रात लगातार बारिश के बाद भदभदा और कलियासोत डैम के गेट खोलने पड़े। रात में ही भदभदा का एक और कलियासोत डैम के दो गेट खोले गए। इसके बाद कलियासोत नदी में पानी का बहाव बढ़ गया है, जिससे निचले इलाकों की आबादी को अलर्ट किया गया है। नगर निगम की टीमें दामखेड़ा और समरधा टोला के निचले इलाकों में नजर रख रही है। शुक्रवार को खरगोन में करीब सवा इंच, पमचढ़ी और बैतूल में आधा-आधा इंच पानी गिरा। धार, खंडवा, नरसिंहपुर, छिंदवाड़ा, खजुराहो, जबलपुर, नर्मदापुरम, मंडला, भोपाल, मलाजखंड, सागर और उज्जैन में भी कहीं-कहीं हल्की बारिश हुई।

यहां बारिश का यलो अलर्ट
भोपाल, रायसेन, राजगढ़, विदिशा, सीहोर, मंदसौर, नीमच, मुरैना, श्योपुकलां, उमरिया, शहडोल, डिंडोरी, छिंदवाड़ा, बालाघाट, सिवनी, बैतूल, हरदा और नर्मदापुरम में अगले 24 घंटों के दौरान कहीं-कहीं हल्की बारिश हो सकती है।

भोपाल में शुक्रवार को दिन में रिमझिम होती रही।

भोपाल में शुक्रवार को दिन में रिमझिम होती रही।

आज से बंगाल की खाड़ी में लो प्रेशर एरिया बना
बंगाल की खाड़ी में लो प्रेशर एरिया बन गया है। खासतौर से महाराष्ट्र और छत्तीसगढ़ से सटे इलाकों में बारिश की संभावना है। इसके अलावा ग्वालियर-चंबल में फिलहाल ज्यादा बारिश नहीं है। इसके बाद तीन दिन तक बारिश पर प्रदेश में ब्रेक लग सकता है। हालांकि, इस दौरान महाराष्ट्र और यूपी में अच्छी बारिश की संभावना है।

गुरुवार को भोपाल में तेज बारिश के बाद भदभदा डैम के गेट खोलने पड़े।

गुरुवार को भोपाल में तेज बारिश के बाद भदभदा डैम के गेट खोलने पड़े।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *