मध्यप्रदेश न्यूज़: मध्यप्रदेश के मंदसौर शहर में विद्युत पोल पर कार्य कर रहे एक मजदूर की करंट लगने से मौत हो गई। अचानक विद्युत सप्लाई होने के कारण मजदूर की मौत होने की खबर सामने आई है। मृतक मजदूर एमपीईबी के कांट्रेक्टर नरेंद्र बसेर के अंडर में विद्युत पोल पर कार्य कर रहा था। अधिकारियों का कहना है कि मामले की जांच कर कार्रवाई की जाएगी।

मध्यप्रदेश न्यूज़: मामला मंदसौर शहर के नए आबादी थाना क्षेत्र के नया खेड़ा फोरलेन हाईवे के निकट एक विद्युत पोल का है, जहां विद्युत पोल पर केबल डालने का कार्य किया जा रहा था। इस दौरान विद्युत पोल पर मजदूर दशरथ पिता जुझार लाल उम्र 30 वर्ष निवासी अघोरिया मंदसौर और कन्हैया लाल निवासी सेजपुरिया कार्य कर रहे थे। इस दौरान विद्युत पोल पर अचानक पावर सप्लाई शुरू हो गई। पावर सप्लाई शुरू होने से पोल पर कार्य कर रहे दोनों मजदूरों को करंट लग गया और इस दौरान मजदूर कन्हैया लाल नीचे गिर गया लेकिन पोल पर बैठकर कार्य कर रहे मजदूर दशरथ को करंट ने अपनी चपेट में ले लिया और दशरथ की मौके पर ही मौत हो गई। मजदूर दशरथ का शव विद्युत पोल पर करीब आधे घंटे तक लटका रहा इसके बाद विद्युत सप्लाई बंद करवा कर क्रेन की मदद से शव को नीचे उतारा गया और पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल पहुंचाया गया।

आधे घंटे तक विद्युत पोल पर लटका रहा मजदूर का शव

एक साल पहले हुई थी शादी, पत्नी गर्भवती और घर में बूढ़ी मां

मध्यप्रदेश न्यूज़: मृतक दशरथ का पोस्टमार्टम कर शव परिजनों को सौंप दिया गया। मृतक के परिजनों ने जानकारी देते हुए बताया कि उसके दो भाई हैं जो अलग-अलग रहते हैं और घर में एक बूढ़ी मां और उसकी पत्नी रहती है। मृतक दशरथ थी अपने घर का मुखिया था और 1 वर्षों पहले ही उसकी शादी हुई थी। फिलहाल उसकी पत्नी गर्भवती है और घर में अकेली बूढ़ी मां बची है। अब घर में कमाने वाला कोई नहीं बचा है। मृतक का शव लेने भी ग्रामीण और सरपंच पहुंचे। ग्रामीणों ने विद्युत विभाग और ठेकेदार पर लापरवाही के आरोप लगाए हैं और कहां है कि मृतक दशरथ का परिवार चल सके इतना मुआवजा देना चाहिए। पत्नी की डिलीवरी के लिए पैसे की सरकार और विद्युत विभाग द्वारा देने चाहिए। अधीक्षण यंत्री सुधीर आचार्य ने कहा है कि मामले की जांच की जाएगी। सभी को सख्त निर्देश दिए गए हैं कि विद्युत पोल पर कार्य करते समय सुरक्षा उपकरण अवश्य पहने। अगर जांच में ठेकेदार की गलती पाई जाती है तो उस पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

दशरथ घर का मुखिया था ,अब घर में कमाने वाला कोई नहीं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *