मध्यप्रदेश न्यूज़: मंदसौर कॉलेज ग्राउंड परिसर में श्री शिव महापुराण कथा का आयोजन किया जा रहा है। पंडित प्रदीप जी मिश्रा द्वारा शिव पुराण कि इस कथा का आज चौथा दिन है। कथा स्थल पर समिति द्वारा श्रद्धालुओं के लिए डोम टेंट और साधारण टेंट लगाए गए हैं। दिनों दिन भीड़ बढ़ती जा रही है और पंडाल श्रद्धालुओं से लबालब भरे हैं। ऐसे मैप 34 डिग्री तापमान पर लबालब भरे पंडाल के कारण श्रद्धालु बीमार होने लगे हैं। 3 दिन की कथा में ही करीब 500 श्रद्धालुओं के बीमार होने की शिकायत सामने आई है। श्रद्धालुओं को बीमार होने के बाद जिला अस्पताल भर्ती कराया गया है वहीं कुछ भक्तों का इलाज मैदान में ही लगाई गई ओपीडी में किया जा रहा है। हालांकि उपचार मिलने के बाद सभी की हालत में सुधार देखे गए हैं।

मध्यप्रदेश न्यूज़: कथा के दौरान बीमार हुए श्रद्धालुओं में सबसे अधिक सिर दर्द के मामले सामने आए हैं जिनकी संख्या 287 है। इसके बाद 113 श्रद्धालुओं को सर्दी खांसी और 68 श्रद्धालुओं को घबराहट और उल्टी दस्त की शिकायत हुई। इनमें से गंभीर 3 मरीजों को जिला अस्पताल भर्ती कराया गया है, जिनका उपचार किया जा रहा है। यह सभी मरीज कॉलेज मैदान परिसर में हो रही कथा के नंदी पंडाल में बैठे थे जहां सही प्रकार से हवा और पानी नहीं मिलने के कारण यह बीमार हो गए।

धूप में बैठकर कथा सुनती हुई महिलाएं
कथा सुनाते हुए पंडित प्रदीप जी मिश्रा

भीड़ का अनुमान नहीं लगा पाए आयोजक, प्रतिदिन बढ़ती जा रही भीड़

मध्यप्रदेश न्यूज़: कथा की शुरुआत में आयोजन कर्ताओं द्वारा एक से डेढ़ लाख श्रद्धालुओं के पहुंचने का अनुमान लगाया गया था। कथा में पहले दिन ही करीब 100000 श्रद्धालु कथा सुनने के लिए पहुंचे जिससे पांडाल छोटा पड़ गया। इसके बाद अगले दिन डॉन पंडाल के चारों ओर टेंट लगाए गए लेकिन दूसरे दिन अधिक श्रद्धालु पहुंचे और दूसरे दिन भी पंडाल छोटे पड़ गए। तीसरे दिन फिर से और टेंट लगाए गए लेकिन इसके बाद भी पांडाल छोटा पड़ गया। लगातार कथा सुनने वाले श्रद्धालुओं की भीड़ बढ़ती जा रही है। इसके चलते गर्मी और भीड़ के कारण श्रद्धालु बीमार हो रहे हैं। अधिकतर महिलाएं तो नवरात्रि के चलते खाली पेट ही कथा स्थल पर पहुंच रही है। इस कारण पानी और हवा नहीं मिलने से घबराहट की शिकायत सामने आ रही है।

नंदी पंडाल में बिना हवा पानी के परेशान होते हुए श्रद्धालु

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *