मध्यप्रदेश मंदसौर न्यूज़: मध्यप्रदेश के मंदसौर जिले में शहर से बस 2 किलोमीटर दूर तेंदुए की दस्तक से रहवासी खौंफ के साए में दिन गुजार रहे हैं। क्षैत्र में तेंदुए की पुष्टि होने के बाद वन विभाग द्वारा अब तेंदुए को रेस्क्यू करने के प्रयास तेज कर दिए गए हैं। वन विभाग द्वारा तेंदुए को पकड़ने के लिए हर प्रकार के प्रयास किए जा रहे हैं।

मध्यप्रदेश न्यूज़: जिला वन अधिकारी आदर्श श्री वास्तव ने जानकारी देते हुए बताया कि मंदसौर शहर के पास स्थित गांव अलावदाखेडी़ में तेंदुए के मुवमेंट की सूचना मिल रही थी। सूचना मिलने के बाद वन विभाग की टीम द्वारा फिंगरप्रिंट की जांच की गई थी जिससे तेंदुए की पुष्टि हुई थी, लेकिन पिछले तीन-चार दिनों में तेंदुए ने एक भी शिकार नहीं किया है। वन विभाग द्वारा तेंदुए को पकड़ने के लिए दो पिंजरे भी लगाए थे लेकिन वन विभाग असफल रहा था। दोबारा ग्रामीणों द्वारा वन विभाग को सूचना दी गई कि ग्रामीणों ने अपने हाथों से खेत के किनारे तेंदुए को पेड़ पर चढ़ते हुए देखा। इसके बाद वन विभाग सतर्क हो गया है और तेंदूए के मूवमेंट को ट्रैक कर रहा है।

उज्जैन से बुलाई गई टीम, ट्रांकलाइजेशन कर तेंदुए को करेंगे रेस्क्यू

मध्यप्रदेश न्यूज़: दोबारा तेंदुए की सूचना मिलने पर वन विभाग द्वारा उज्जैन की टीम बुलाई गई है जो तेंदुए के मूवमेंट को ट्रैक कर ट्रांकलाइजेशन की मदद से तेंदुए को रेस्क्यू करेंगे। मंदसौर डीएफओ के अनुसार उज्जैन से बुलाई गई टीम द्वारा जल्द ही गांव अलावदाखेडी़ से तेंदुए को रेस्क्यू कर लिया जाएगा। तेंदुए का मूवमेंट अलावदा खेड़ी के साथ साथ मंदसौर शहर के अभिनंदन नगर में हो सकता है। वन विभाग की टीम तेंदुए के मूवमेंट पर नजर बनाए हुए हैं। वन विभाग की टीम और उज्जैन की टीम द्वारा जल्द ही तेंदुए को पकड़कर सुरक्षित गांधी सागर से जंगल में छोड़ दिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *