Bhagwan pashupatinath mahadev Mandir mandsaur

मध्यप्रदेश न्यूज़: मध्यप्रदेश में बीते 2 दिनों में इतनी बारिश हुई कि शिवना नदी उफान पर आ गई। बीते रात प्रतापगढ़ और मंदसौर जिले में कितनी बारिश हुई की सुबह शिवना नदी में पानी का बहाव तेज हो गया और शिवना का पानी भगवान पशुपतिनाथ के गर्भगृह तक पहुंच गया। शिवना का जल स्तर इतना बढ़ गया कि भगवान पशुपतिनाथ के चार मुंह पानी में डूब गए।

मध्यप्रदेश न्यूज़: मौसम विभाग ने 1 सप्ताह पहले ही मंदसौर नीमच और रतलाम जिले में बारिश को लेकर रेड अलर्ट जारी कर दिया था जिसका असर बीते दो दिनों में देखने को मिला है। पिछले दो दिनों से मंदसौर, नीमच और मंदसौर जिले से सटे राजस्थान के इलाकों में लगातार बारिश हो रही है। बीते कल मंदसौर जिले और प्रतापगढ़ जिले के कुछ इलाकों में लगातार तेज बारिश हुई, जिसके कारण सुबह तक शिवना नदी उफान पर आ गई। इस वर्ष में आज पहली बार शिवना नदी उफान पर आई है और भगवान पशुपतिनाथ मंदिर परिसर जलमग्न हो गया है। मौसम विभाग और मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि प्रदेश के मंदसौर, नीमच और रतलाम जिले में पहले ही रेड अलर्ट जारी कर दिया गया था। बंगाल की खाड़ी से दोबारा मानसुन का दौर शुरू हुआ है। यह मानसुन का मिजाज कितने दिनों तक चलेगा, इसकी जानकारी फिलहाल नहीं दी गई है।

तेज हो सकती है बारिश, गुराड़िया देदा में पं. श्री भीमाशंकर जी शास्त्री करेंगे कथा का आयोजन

मध्यप्रदेश न्यूज़: मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि मंदसौर, नीमच और रतलाम जिले में अभी भी रेड अलर्ट जारी किया गया है। अभी भी इन इलाकों में तेज बारिश हो सकती है। मंदसौर जिले के गांव गुराड़िया देदा में बैठक के दौरान आज उज्जयनी मनाने का फैसला लिया गया था, लेकिन बारिश की वजह से सभी लोगों को घर में ही कार्यक्रम करना पड़ेगा।

मंदसौर: गांव गुराड़िया देदा में दिनांक 17 अगस्त से 23 अगस्त तक श्री मद भागवत कथा का आयोजन किया गया है। जिसमें पं. श्री भीमाशंकर जी शास्त्री अपने मीठे वचनों से भागवत कथा का संचालन करेंगे। कथा के लिए पांडाल तैयार किया जा चुका है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *