मध्यप्रदेश न्यूज़: मंदसौर में जानलेवा स्क्रब टाइफस वायरस की दस्तक, मंदसौर में 13 पॉजिटिव केस मिले,लोग नहीं दे रहें ध्यान

0
36

मध्यप्रदेश न्यूज़: मध्यप्रदेश के मंदसौर जिले में जानलेवा खतरनाक वायरस स्क्रब टायफस ने दस्तक दे दी है। स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट में बताया गया है कि पिछले 15 दिनों में मंदसौर से 13 पॉजिटिव केस सामने आए हैं। इसमें 10 मरीज मंदसौर के, दो अन्य जिले के एवं एक राजस्थान का मरीज शामिल है।

मध्यप्रदेश न्यूज़: मंदसौर जिले में दस्तक दे चुके खतरनाक वायरस स्क्रब टायफस के कई सारे केस जिले में आ चुके हैं, लेकिन स्वास्थ्य विभाग कम आंकड़े बता रहा है। शहर के सभी 10 बड़े निजी अस्पतालों में करीब 150 से अधिक मरीजों का इलाज चल रहा है, लेकिन विभाग मालूम होते हुए भी सही आंकड़े छिपा रहा है। वहीं एक मरीज की फेफड़े और किडनी फैल होने से मौत भी हो चुकी है। स्वास्थ्य अधिकारियों का कहना है कि मरीज में वायरस की पुष्टि होने के बाद टीम आसपास वाले घरों से सैंपल लेकर जांच कर रही है। फिलहाल जिले वासियों को इस बीमारी से ज्यादा खतरा नहीं है। स्क्रब टायफस वायरस ने वर्ष 2017 में पहली बार मंदसौर जिले में दस्तक दी थी। इसके बाद प्रतिवर्ष से मरीजों की संख्या बढ़ती गई, हालांकि कोरोनावायरस स्क्रब टायफस के मरीज नहीं मिले थे लेकिन वर्तमान में दोबारा मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है।

सभी मरीज बाहर से लौटे, डाक्टरों ने क्या कहा

मध्यप्रदेश न्यूज़: एपिडेमियोलॉजिस्ट डॉक्टर शुभम सिलावट ने जानकारी देते हुए बताया कि अधिकतर पॉजिटिव मरीजों की रिपोर्ट में आया कि मरीज बाहर से लौटे थे। सभी पॉजिटिव मरीजों के आस पास वाले घरों में जांच कराई है जिसमें अभी तक कोई पॉजिटिव नहीं पाया गया है। जिले के किसानों को इस बीमारी से अधिक खतरा है क्योंकि ग्रामीण अंचल क्षेत्रों के घरों में चूहे अधिक पाए जाते हैं। स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि जल्द ही जिले में बिमारी को खत्म कर दिया जाएगा। डॉ सिलावट ने बताया कि पिस्सू चूहे पर चिपक कर घरों में पहुंचते हैं। पिस्सुओं के इंसान को काटते ही उसके लार में मौजूद जीवाणु खून में फैल जाते हैं। इसकी वजह से लीवर, फेफड़ों और दिमाग में कई तरह के इंफेक्शन होने लगते हैं। इसकी पहचान काटने का निशान देखकर की जाती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here