लगातार हो रही वर्षा से खेतों में फसलें बेहतर कई क्षेत्रों में हुआ नुकसान : Mandsaur News

0
53
BARISH KHABAR

मंदसौर तरबतर : मंदसौर में झमाझम, जिले का आंकड़ा नौ इंच के पार

शामगढ़, कुचड़ौद में तेज हवाओं के साथ हुई वर्षा से पेड़ व विद्युत पोल गिरे

बिजली की आपूर्ति व्यवस्था हुई प्रभावित

Mandsaur news :जिले में मानसून अब पूरी तरह से मेहरबान हो गया है। सप्ताहभर से जिले में अलग-अलग क्षेत्रों में लगातार अच्छी वर्षा हो रही है। वर्षा से खेतों में खरीफ सीजन की फसले प्रारंभिक चरण में बेहतर स्थिति में है। शुक्रवार शाम को मंदसौर झमाझम वर्षा हुई। इससे पहले गुरूवार की रात में भी मंदसौर में तेज वर्षा से पूरा शहर तरबतर रहा। इसके अलावा गुरूवार रात में शामगढ़ और कुचड़ौद क्षेत्र में तेज हवाओं से हुई तेज वर्षा के साथ आफत भी बरसी। कई जगह पेड़ गिर गई, हवाओं से विद्युत पोल भी धराशायी हुए। इससे कहीं कुछ घंटों तो कुछ गांवों में रातभर बिजली आपूर्ति व्यवस्था प्रभावित हुई।

लगातार हो रही वर्षा से जिले में वर्षा का आंकड़ा भी तेजी बढ़ रहा है। गुरुवार सुबह आठ बजे से शुक्रवार को 24 घंटे समाप्त होने तक जिले में औसत एक इंच से अधिक वर्षा हुई। इसमें सर्वाधिक वर्षा सीतामऊ में 53 मिमी, मल्हारगढ़ में 41 मिमी, सुवासरा में 36 मिमी एवं गरोठ व शामगढ़ में 33-33 मिमी वर्षा दर्ज की गई। इसके साथ ही जिले में औसत वर्षा नौ इंच दर्ज हो चुकी है। जबकि पिछले साल 15 जुलाई तक सात इंच वर्षा दर्ज हुई थी। शुक्रवार को जिले के कई क्षेत्रों में झमाझम वर्ष हुई। शाम को 6.30 से 7.15 बजे तक झमाझम वर्षा का दौर जारी रहा। इससे शहर के कई क्षेत्रों में पानी भर गया। इसके साथ ही जिलेभर में वर्षा से सबसे ज्यादा किसानों को राहत है। खेतों में फसलों की स्थिति बेहतर है। वहीं जल स्त्रोतों में भी पानी की आवक शुरू हो गई है। गुरुवार को शिवना नदी में भी पानी की आवक हुई थी। अब उम्मीद है कि जल्द ही शिवना नदी उफान पर आ जाएगी।

शुक्रवार को शामगढ़ में डेढ़ इंच वर्षा

शामगढ़। शामगढ़ एवं क्षेत्र जोरदार वर्षा हो रही है। गुरूवार रात में एक घंटे की झमाझम वर्षा से पूरा क्षेत्र तरबतर हो गया है। रात दस बजे से कड़कड़ाती बिजली के साथ तेज वर्षा हुई। इस दौरान पूरे नगर में करीब दो घंटे तक बिजली भी बंद रहीं। तेज हवाओं के कारण मांकड़ी रोड़ पर एक विद्युत पोल क्षतिग्रस्त होकर एक पेड़ पर गिर गया। जिससे पेड़ भी उखड़कर गया। तेज अंधड़ व वर्षा के चलते शहर में तीन स्थानों विद्युत पोल क्षतिग्रस्त हो गए। जिससे विद्युत सप्लाई प्रभावित हुई। पेड़ बीच सड़क पर गिरने से आने-जाने वालों को परेशानी हुई। शुक्रवार सुबह सात बजे तक नगर में डेढ़ इंच वर्षा दर्ज की गई। नगर में अभी तक कुल 313.2 मिमी वर्षा हो चुकी है।

तेज वर्षा से पेड़ गिरे, लाइन फाल्ट होने से रातभर बंद रही बिजली

कुचड़ौद। कुचड़ौद व आसपास क्षेत्र में गुरुवार रात हुई तेज वर्षा के दौरान तेज हवा भी चली। जिससे पेड़ गिरने से लाइन फाल्ट हो गई। रात में तेज वर्षा व हवा के कारण सुधार नहीं हुअ। इससे कुचड़ौद सहित कुछ अन्य गांवों में रातभर विद्युत व्यवस्था प्रभावित हुई। गांव व आसपास क्षेत्र में गुरुवार रात 10.15 बजे करीब 20 मिनट तक तेज आंधी चली। साथ ही तेज वर्षा प्रारंभ हुई। इससे कई मकानों से टिनशेड और बरसाती उड़ गई। वहीं अंचल क्षेत्र में कई जगह पेड़ उखड़कर गिर पड़े। कुछ जगह खेतों के रास्तों में पेड़ गिरने से किसानों को खेतों पर जाने के लिए आवागमन भी बाधित रहा। रात में तेज आंधी वर्षा के साथ झावल में 11 केवी लाइन फाल्ट होने से ग्रीड से जुड़े सभी गांवों में रातभर बिजली बंद रही। इससे ग्रामीण परेशान होते रहे। तेज वर्षा से गांव की नालियों में व सड़क पर पानी जमा हो गया।

मंदसौर जिले में अभी तक हुई बारिश मिमी में

स्थान 24 घंटे में 15 जुलाई 22 15 जुलाई 21

मंदसौर 23.0 242.0 194.0

सीतामऊ 53.4 220.4 306.8

सुवासरा 36.0 209.9 246.7

गरोठ 33.2 461.8 94.0

भानपुरा 10.6 154.8 48.2

मल्हारगढ़ 41.0 142.0 181.0

धुंधड़का 21.0 205.0 209.0

शामगढ़ 33.6 315.2 100.4

संजीत 19.0 188.0 73.0

कयामपुर 20.2 163.2 184.5

भावगढ़ 18.2 151.0 0.0

औसत 30.2 245.3 163.6

जिले की औसत वर्षा-32.5

(स्रोतः भू-अभिलेख विभाग मंदसौर, आंकड़े 15 जुलाई सुबह 8 बजे तक)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here