शिवना शुद्धीकरण महाअभियान 2022: पिछले कई सालों से शिवना शुद्धीकरण के लिए चल रहे महाअभियान में एक बार फिर प्रशासन ने सतर्कता जताई है। मंदसौर की जलदायिनी मां शिवना का दोबारा 19 मई से शुद्धिकरण के लिए महा अभियान शुरू होने जा रहा है।  इस वर्षा मौसम विभाग ने भी मानसून के जल्दी आने के संकेत दे दिए हैं। मौसम विभाग ने संभावना जताते हुए कहा है कि प्रदेश में 27 मई तक मानसून दस्तक दे सकता है और 20 जून तक मानसून आने की संभावना है। मंदसौर विधायक यशपाल सिंह सिसोदिया ने शिवना शुद्धिकरण महा अभियान के तहत कहा है कि प्रशासन इस बार किसी भी प्रकार की जल्दबाजी नहीं करें। पिछले कई सालों से चल रहे शिवना को शुद्ध करने के लिए अभियान सफल नहीं हो पाए हैं, लेकिन इस बार शिवना को शुद्ध करके ही शांत बैठना है।


शिवना शुद्धीकरण महाअभियान 2022: 19 मई से शुरू हो रहे शिवना शुद्धिकरण महाअभियान 2022 से पहले वर्तमान कलेक्टर गौतम सिंह ने अपने ऑफिस में बैठक कर सभी अधिकारियों और प्रशासन को अपना प्लान बताया। इस बार शिवना शुद्धिकरण के लिए मंदसौर प्रशासन को केंद्र सरकार से ₹30 करोड़ रुपए की स्वीकृति प्राप्त हुई है। बैठक में विधायक यशपाल सिंह सिसोदिया ने कहा कि शिवना शुद्धिकरण के लिए पिछली कई योजनाएं सफल नहीं हो पाई है और इस बार की योजना और सफल नहीं होनी चाहिए इसलिए इंजीनियर को ठीक से मैंप तैयार करके सभी पैसों का सदुपयोग करना चाहिए। 

गंदे पानी को रोकने की योजना बनाई गई है

शिवना शुद्धीकरण महाअभियान 2022: इस बार शिवना शुद्धिकरण के तहत गंदे पानी को नदी में मिलने से बिल्कुल रोकने की योजना बनाई गई है। नगर पालिका ने शिवना शुद्धिकरण के लिए डीपीआर बनाकर केंद्र सरकार को भेजी थी जिसमें 108 करोड रुपए की मांग की गई थी जिसमें से केंद्र सरकार द्वारा ₹300000000 की स्वीकृति प्रदान की गई है। इसमें अगर शिवना को 8 किलोमीटर तक साफ किया जाएगा और ड्रेनेज सिस्टम तैयार कर शिवना में मिल रहे गंदे पानी को पूरी तरीके से रोका जाएगा। 19 मई से शिवना शुद्धिकरण अभियान चलाया जाएगा जो 10 जून तक चलेगा। 8 दिसंबर को मंदसौर का गौरव दिवस मनाया जाएगा।  इसको लेकर शहर में कई विकास के कार्य किए जा रहे हैं और प्रशासन ने दावा किया है कि गौरव दिवस तक शिवना निर्मल और शुद्ध हो जाएगी। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *