मध्यप्रदेश के मंदसौर जिले में हाल ही में शुरू हुई हवाई पट्टी की चर्चा विधानसभा में चलने लगी है। मंदसौर हवाई पट्टी पर कुछ जेट प्लेन द्वारा विद्यार्थियों को पायलट बनाया जा रहा है। इस दौरान मंदसौर हवाई पट्टी पर रोजाना प्लेन चलाए जा रहे हैं। हवाई पट्टी की विस्तार की बात को लेकर विधानसभा में मंदसौर विधायक यशपाल सिंह द्वारा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह से सवाल पूछा गया। मुख्यमंत्री ने इसका जवाब देते हुए कहा कि हवाई पट्टी की योजना केंद्र सरकार तय करती है।


मध्यप्रदेश न्यूज़: आज से 1 साल पहले मंदसौर हवाई पट्टी पर कोई नहीं दिखता था बल्कि वहां पर आवारा पशु और कुत्ते घूमते रहते थे, लेकिन पायलट बनने के लिए यहां का पर्यावरण अनुकूलित होने के कारण हाल ही में मंदसौर हवाई पट्टी को चालू किया गया है ,जिसमें प्रदेश व देश के कोने-कोने से आए बच्चों को प्लेन उड़ाना सिखाया जा रहा है। विधानसभा में हुई बैठक में मंदसौर विधायक यशपाल सिंह सिसोदिया द्वारा मंदसौर हवाई पट्टी के विस्तार को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से सवाल पूछा गया। इसके चलते मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सवाल का जवाब विधानसभा में पेश किया और कहा कि मंदसौर की हवाई पट्टी केंद्र सरकार की उड़ान योजना में शामिल है और इसके लिए योजना भी केंद्र सरकार ही तय करेगी। इसके साथ ही सीएम शिवराज सिंह चौहान ने यह भी कहा कि वर्तमान में मंदसौर हवाई पट्टी पर एविएशन अकादमी द्वारा प्राइवेट ट्रेनिंग सुविधाएं उपलब्ध कराई जा रही है। एयरपोर्ट एक्टिविटी के लिए प्रचलन जारी है। 

18 युवा पायलट की ट्रेनिंग ले रहे हैं

मध्यप्रदेश न्यूज़: वर्तमान में मंदसौर हवाई पट्टी पर प्रदेश के विभिन्न स्थानों से पहुंचे 18 युवा पायलट की ट्रेनिंग ले रहे हैं। इसके लिए फिलहाल चार विमानों का उपयोग किया जा रहा है। सभी युवाओं के लिए एक निश्चित दूरी तय करने का लक्ष्य रखा गया है ,जिसके बाद उन्हें पायलट घोषित कर दिया जाएगा। वहीं एयर एंबुलेंस की अनुमति केंद्र सरकार द्वारा दी जा रही है। इसके लिए भी प्रयास किए जा रहे हैं। मंदसौर विधायक यशपाल सिंह सिसोदिया मंदसौर हवाई पट्टी के विस्तार के लिए काफी प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने कहा है कि सांसद सुधीर गुप्ता की सहायता से हवाई पट्टी के विस्तार के लिए केंद्र सरकार से बातचीत की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *