नीमच पुलिस ने 10 किलो RDX के साथ किया तीन आतंकवादियों को गिरफ्तार

 इन आतंकवादियों ने राजस्थान की राजधानी जयपुर में 3 स्थानों पर सीरियल ब्लास्ट करने की साजिश रची।

मध्य प्रदेश न्यूज़: मध्य प्रदेश जिले के नीमच में पुलिस ने तीन आतंकवादियों को 10 किलो RDX के साथ गिरफ्तार किया। इन आतंकवादियों ने राजस्थान की राजधानी जयपुर में तीन स्थानों पर रियल ब्लास्ट करने की साजिश रची थी। आरोपी पूरी प्लानिंग में थे लेकिन इनसे पहले ही निंबाहेड़ा मैं जयपुर और चित्तौड़गढ़ पुलिस टीम ने रतलाम के तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया। 

पुलिस ने बताया कि आरोपियों की कार से बम बनाने की सामग्री, टाइमर और करीब 8 से 10 किलो RDX बरामद किया। प्रारंभिक पूछताछ में सामने आया कि तीनों आरोपी जयपुर में 3 जगह बम ब्लास्ट करने के लिए निंबाहेड़ा में बम बना कर दूसरी गैंग को देने वाले थे लेकिन इसी बीच पुलिस ने तीनों को गिरफ्तार कर लिया। उसके बाद उदयपुर और जयपुर ATS टीम भी देर शाम निंबाहेड़ा पहुंच गई। पुलिस और एटीएस को शक है कि तीनों आतंकवादी अलशिफा संगठन से जुड़े हुए। वहीं सूत्रों की मानें तो सितंबर 2014 के कपिल राठौर और पुखराज हत्याकांड में सैफुल्लाह2017 में तरुण सांखला हत्याकांड में जुबेर और अल्तमस का हाथ था। यह आतंकवादी इन संगठनों से भी जुड़े हो सकते हैं। पुलिस सूत्रों के अनुसार बुधवार को नाकाबंदी के दौरान निंबाहेड़ा पुलिस ने कार से तीन युवक को पकड़ा। तलाशी लेने पर से उनके पास टाइमर, बम बनाने की सामग्री व आठ से 10 किलो RDX बरामद किया। पुलिस की अलग-अलग टीमों ने जांच शुरू की। सामने आया कि तीनों आतंकवादियों के पास MP नंबर की कार थी। पुलिस ने तीनों आरोपियों को हिरासत में लेकर पूछताछ जारी है। फिलहाल पुलिस ने गिरफ्तारी और नामों का खुलासा नहीं किया है। लेकिन खुलासा हुआ है कि तीनों आरोपियों ने किसी आतंकवादी संगठन का नाम भी बताया है। 

एटीएस की टीम करेगी खुलासा

IPS अशोक राठौर ने बताया कि इस बारे में ATS की टीम और निंबाहेड़ा पुलिस टीम खुलासा करेगी कि यह सामग्री कहां लेकर जा रहे थे और किस समर्थन संगठन हे जुड़े। इन सब का खुलासा बहुत जल्द किया जाएगा। 


आपको बता दें कि आरडीएक्स का अर्थ है अनुसंधान और विस्फोटक विकास ( RDX– Research & Development Explosive आरडीएक्स का आविष्‍कार एक जर्मन रसायनविद हेनिंग ने 1899 में शुद्ध सफेद क्रिस्टलाइन्ड पाउडर के रूप में किया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *