मध्य प्रदेश के रतलाम जिले में रिंगनोद थाना क्षेत्र की पुलिस ने देह व्यापार के अड्डों पर दबिश दी जहां पर पुलिस ने चार नाबालिक लड़कियों को देह व्यापार से मुक्त कराया और लड़कियों से व्यापार करने वाली महिलाओं को गिरफ्तार किया है। 

मध्य प्रदेश न्यूज़: प्रदेश के रतलाम जिले में रिंगनोद पुलिस ने ढो़ढर गांव में देह व्यापार के अड्डे पर देर रात दबिश दी। पुलिस ने देह व्यापार के अड्डे पर पहुंचकर देह व्यापार में लिप्त एक महिला को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने जानकारी देते हुए बताया कि देह व्यापार के अड्डे पर 4 लड़कियां नाबालिग भी थी ,जिन्हें देह व्यापार से मुक्त करवा दिया गया है और एक महिला जो स्वयं देह व्यापार में लिप्त होकर नाबालिग लड़कियों से भी देह व्यापार करवाती थी। आरोपी महिला को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस ने नाबालिग लड़कियों को देह व्यापार के अंडों से मुक्त करवाकर व्यापार कराने वाली महिलाओं को गिरफ्तार किया और उनके खिलाफ अनैतिक व्यापार और पास्को एक्ट के तहत विभिन्न धाराओं में प्रकरण दर्ज किया है।

ढो़ढर के बांछड़ा इलाकों में देह व्यापार के अड्डे संचालित होते हैं

मध्य प्रदेश न्यूज़: गौरतलब है कि महू नीमच हाइवे पर स्थित रतलाम जिले के ढोढर इलाके में बांछड़ा लोगों की जनजाति निवास करती है। ढोढर और आसपास के इलाकों में बांछड़ा लोगों के ढेरों में देह व्यापार के अड्डे संचालित होते हैं। वहां की महिलाएं जबरदस्ती नाबालिक लड़कियों को भी देह व्यापार के इस घिनौने काम में धकेल दिया जाता है। पुलिस ने बीती रात इसीलिए देह व्यापार के अड्डे पर दबिश दी है और जबरदस्ती देह व्यापार में धकेली गई नाबालिग बालिकाओं को इस घिनौने काम से मुक्त कराया है। मुक्त कराई गई लड़कियों की काउंसलिंग के लिए पुलिस ने सभी नाबालिगों को वन स्टॉप सेंटर भेजा है। पुलिस अब अन्य ठिकानों पर भी जल्द ही दबिश दे सकती है। प्रशासन देह व्यापार करने वाली लड़कियों को इस घिनौने कार्य से मुक्त कराना चाहती है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *