बिना अनुमति बन रहें शापिंग काम्प्लेक्स को किया ध्वस्त 2022

प्रशासन का अमला जिले में अभी भी अतिक्रमण को हटाने के लिए सक्रिय चल रहा है। मंदसौर जिले में खनन विभाग का अमला तेजी से लोगों द्वारा किए जा रहे स्थाई और अस्थाई अतिक्रमण को हटाने में लगा हुआ है। इसी के चलते प्रशासन ने बीते कल नगर पालिका और प्रशासन के संयुक्त अधिकारियों के साथ मिलकर कार्यवाही करते हुए अवैध निर्माण पर बुलडोजर चला दिया। मंदसौर न्यायालय मार्ग पर स्थित लगभग 2000 वर्ग फिट जमीन पर प्रशासन से अनुमति लिए बिना अवैध रूप से दुकानों का निर्माण कर शापिंग काम्प्लेक्स का निर्माण किया जा रहा था। इस शापिंग काम्प्लेक्स के लिए प्रशासन से किसी भी प्रकार की अनुमति नहीं ली गई थी। इसके बाद प्रशासन को सूचना मिलते ही अमले ने वहां पहुंचकर सभी दुकानों को जमींदोज कर दिया। 

तेलिया तालाब के निकट नाले पर किए गए अतिक्रमण को भी हटाया

मंदसौर के तहसीलदार मुकेश सोनी ने जानकारी देते हुए बताया कि मंदसौर न्यायालय मार्ग पर व्यवसाई गिरिश अग्रवाल द्वारा अवैध रूप से शापिंग काम्प्लेक्स का निर्माण करवाया जा रहा था। इसके लिए कोई अनुमति नहीं ली गई थी। जब बहुत बार भूमि स्वामी से अधिकारियों ने नोटिस जारी करके अनुमति संबंधित दस्तावेज भी मांगे लेकिन जब बार-बार नोटिस जारी करने के बाद भी दस्तावेज उपलब्ध नहीं कराए गए तो प्रशासन में बिना अनुमति के हो रहे निर्माण को जमींदोज कर दिया। इसके साथ ही तेलिया तालाब के नाले पर किए गए अवैध अतिक्रमण को भी प्रशासन भी हटा दिया है। 

भू माफियाओं के खिलाफ कार्यवाही लगातार जारी रहेगी

आज से पहले भी प्रशासन ने मंदसौर शहर की कई कीमती जमीनों को अवैध अतिक्रमण से मुक्त करवाया है। तहसीलदार मुकेश सोनी ने जानकारी देते हुए बताया कि जिले में भू माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई लगातार जारी रहेगी और सरकारी जमीन पर हो रहे स्थाई और अस्थाई अवैध अतिक्रमण को हटाया जाएगा। अभी तक मंदसौर जिले में 50 करोड से अधिक कीमत की जमीन को प्रशासन द्वारा मुक्त कराया गया है। अभी भी प्रशासन का यह अभियान जारी है और लगातार चलता रहेगा। फिलहाल मंदसौर शहर के आसपास और कृषि उपज मंडी मंदसौर में भी अतिक्रमण की जमीन को मुक्त करा दिया गया है अब शहर से कुछ दूरी पर हो रहे अतिक्रमण पर कार्यवाही की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *