पान की खेती में ठंड व ओले गिरने से हुए नुकसान का मौका मुआयना कर दिया जाए मुआवजा, तंबोली समाज पहुंची तहसील कार्यालय।


कुकड़ेश्वर में तंबोली समाज के 400 से अधिक परिवार निवास करती है। जीके आमदनी का प्रमुख साधन पान की खेती है। लेकिन पिछले कुछ दिनों से अत्यधिक ठंड ओले गिरने वह पानी आने के कारण पान की खेती में नुकसान हुआ है। जिसे लेकर तंबोली समाज नायाब तहसीलदार मुकेश निगम कार्यालय कुकड़ेश्वर को ज्ञापन सौंपकर यह मांग की कि कुकड़ेश्वर में 475 परिवार पान की खेती करते है। इस बार पान की खेती में ओला व बारिश गिरने से 80% नुकसान हुआ है। वही पान की खेती मे मौका मुआवना करके मुआवजा देवे।


तंबोली कुकड़ेश्वर समाज ने की मांग


कुकड़ेश्वर की आमदनी पान की खेती ही है, जिसमें पिछले दिनों हुए प्राकृतिक प्रकोप से बहुत नुकसान हुआ है। तंबोली समाज कुकड़ेश्वर ने मांग की है कि पान की खेती व पान कृषकों को शाशन कि फ़सल बीमा योजना में जोड़कर सहायत भी प्रदान करे व कुकड़ेश्वर के पान कृषि की पान की पनवाड़ीयो का प्रशासन द्वारा मौका देख कर सर्वे कर मुआवजा प्रदान किया जाए। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *