👆मध्य प्रदेश में मार्च के बाद होंगे त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव।

0
21

 मध्य प्रदेश में मार्च के बाद होंगे त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव।👆👆






मध्यप्रदेश में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव मार्च के बाद ही होंगे। 21 मार्च तक समाप्त हो जाएगी परिसीमन की प्रक्रिया। कोरोना संक्रमण के कारण परिसीमन की प्रक्रिया प्रभावित हुई है। इसे देखते हुए पंचायत व ग्रामीण विकास विभाग ने परिसीमन का कार्यक्रम चालू कर दिया। अब पंचायतों का परिसीमन 16 मार्च तक होगा वही जनपद और जिला पंचायत का परिसीमन 10 मार्च तक होगा। 21 मार्च को पंचायत राज संचनालय जिलों से प्रतिवेदन लेकर शासन को जानकारी भेजेंगे। इसके बाद आरक्षण की प्रक्रिया होगी।


मध्यप्रदेश में 2019 में पंचायत चुनाव का परिसीमन किया गया था। अब कांग्रेस की सरकार थी सत्ता परिवर्तन के बाद शिवराज सरकार ने मध्य प्रदेश पंचायत राज एवं ग्राम स्वराज संशोधन के अध्यादेश के माध्यम से इस परिसीमन को निरस्त करते हुए 2014 की व्यवस्था के हिसाब से पंचायत चुनाव कराने का निर्णय लिया था। राज्य निर्वाचन आयोग ने चुनाव कार्यक्रम भी घोषित कर दिया था। इसमें रोटेशन का पालन नहीं होने को लेकर अध्यादेश को हाईकोर्ट में चुनौती दी गई थी। हाईकोर्ट ने चुनाव प्रक्रिया को रोकने से इंकार कर दिया। तो सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की गई।


कोर्ट ने अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षित पदों को अनारक्षित श्रेणी में अधिसूचित कराकर चुनाव करवाने के आदेश दिए। जिसके बाद सरकार ने अध्यादेश वापस लिया और चुनाव प्रक्रिया निरस्त कर दी गई।


अब मध्य प्रदेश पंचायत राज एवं ग्राम स्वराज द्वितीय संशोधन अध्यादेश के माध्यम से पंचायतों का परिसीमन कराया जा रहा है। 17 जनवरी को सभी जिलों में परिसीमन का प्रारंभिक प्रकाशन हो चुका है। यह प्रक्रिया 30 फरवरी तक पूरी होनी थी लेकिन कोरोना संक्रमण के कारण दावा आपत्ति व सुझाव की प्रक्रिया नहीं हो पा रही है। इसे देखते हुए पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग ने कार्यक्रम संशोधित कर दिया। अब 11 फरवरी तक दावा आपत्तिया वह सुझाव लिए जाएंगे। 16 मार्च तक सभी प्रक्रिया पूरी कर कर नए पंचायत के गठन की अधिसूचना जारी की जाएगी।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here