4 जनवरी 2022 से प्रदेश में हो सकती है धमाकेदार बारिश 

मौसम विभाग ने जानकारी देते हुए बताया है कि मध्यप्रदेश में अब अचानक फिर से मौसम बदलेगा और कल से धमाकेदार बारिश होने की आशंका जताई है। 1 दिसंबर को आई रिपोर्ट में विभाग ने कहा था कि अगले दो दिनों तक प्रदेश में गर्मी रहेगी और 4 जनवरी के बाद धमाकेदार बारिश होगी। मौसम विभाग ने अपनी रिपोर्ट में बताया था कि पश्चिम की तरफ से आने वाली हवाओं के कारण तापमान में बढ़ोतरी होगी और रात के समय ठंड कम होगी। प्रदेश में बारिश होने का कारण पाकिस्तान की तरफ से आ रही नमी भरी हवाएं हैं। पिछली बार इस भी पाकिस्तान से आ रही नमी भरी हवाओं के कारण ही हुई थी और इस बार भी यह हवा चलने के कारण बारिश होने की आशंका बढ़ गई है। मौसम विभाग ने चेतावनी देते हुए बताया था कि आने वाले 1 सप्ताह प्रदेश में अचानक मौसम बदलेगा और कहीं भयानक ठंड तो कहीं भयानक बारिश देखने को मिलेगी। ठंड कम होने के कारण शाम को कोहरा छाया रहेगा और रात को फसलों पर ओस गिरने की संभावना कम हो जाएगी। मौसम विभाग ने बताया है कि यह स्थिति प्रदेश के सभी जिलों में बनी रहेगी।

दिन का मौसम साफ रहेगा और रात को ठंड पड़ेगी

मौसम विभाग ने अपनी रिपोर्ट में जानकारी देते हुए बताया कि आने वाले 2 दिनों तक तो दिन का मौसम साफ रहेगा और रात को ठंड पड़ सकती है। दिन का तापमान 20 डिग्री सेल्सियस तक बढ़ जाएगा और आसमान में बिल्कुल भी बादल नहीं छाए रहेंगे। मौसम विभाग ने रात की ठंड के बारे में कहा था कि रात को ठंड का मौसम वैसा ही रहेगा जैसा पिछले दिनों से चलता आ रहा है। तापमान बढ़ने के कारण कोहरा भी बढ़ने लगेगा हालांकि ओस गिरने की संभावना कम हो जाएगी। इसके अलावा मौसम विभाग ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि उत्तर की तरफ वाले जिलों में अधिक ठंड पड़ने की संभावना है लेकिन इन जिलों में बारिश होने की संभावना कम है क्योंकि पश्चिम की तरफ से आ रही हमारे यहां कम असर करेगी। यहां पर बारिश कब होगी क्योंकि जैसे-जैसे ठंड का असर बढ़ता जाएगा वैसे-वैसे तापमान और बारिश की संभावना कम होती जाएगी।

इन जिलों में दिन में भी ठंड पड़ेगी, किसानों को होगा नुकसान

मौसम विभाग ने रिपोर्ट में बताया है कि मंदसौर ,नीमच, रतलाम, उज्जैन, इंदौर, मुरैना , शाजापुर, मालवा आदि जिलों में रात को तो ठंड रहेगी ही साथ ही दिन में भी ठंड का महसूस हो सकता है। इन्हीं सभी जिलों में कल से पश्चिम की तरफ से आ रही हवाओं का असर दिखेगा और बारिश होने की काफी ज्यादा संभावना पैदा हो रही है। प्रदेश के मंदसौर और नीमच जिले बिल्कुल किनारे पर स्थित है जिससे पश्चिम की तरफ से आने वाली हवाएं यहां पर सबसे पहले प्रवेश करेगी। इसीलिए मौसम विभाग ने मंदसौर और नीमच जिले में सबसे भारी बारिश का अलर्ट किया है। मौसम विभाग ने कहा है कि दिन के समय मौसम साफ रहेगा हालांकि ठंड लोगों को परेशान कर सकती है। यहां पर कोहरा गिरने की संभावना भी बढ़ जाएगी क्योंकि ठंड का असर जितना ज्यादा रहेगा उतना ज्यादा कोहरा गिरेगा। 

किसानों के लिए नुकसानदायक, अफीम किसानों को होगा फायदा

पश्चिम की तरफ से आने वाली इनमें भरी हवाओं से किसानों को सावधान रहना होगा क्योंकि इन हवाओं के कारण रात को पाला गिर सकता है जिससे खेतों में खड़ी फसलों को काफी नुकसान हो सकता है। मौसम विभाग ने पश्चिमी जिलों में अधिक ठंड गिरने की संभावना बताई है जहां दिन के समय तापमान साफ रहेगा लेकिन रात को कड़ाके की ठंड पड़ेगी। आने वाले 1 सप्ताह में मौसम में अचानक परिवर्तन हो सकता है जिससे किसानों की फसलों को नुकसान हो सकता है। किसानों को फसलों की ध्यान रखना बहुत जरूरी है। हालांकि मौसम बदलने के कारण अफीम किसानों को फायदा मिलेगा क्योंकि मम्मी भरी हवाओं के कारण खेतों में नमी आ जाएगी और यह अफीम की अच्छी पैदावार होने में काफी मदद करेगी। मौसम विभाग ने यह भी कहा है कि मौसम में परिवर्तन होने के साथ-साथ हवाओं की गति भी धीरे हो जाएगी जिससे अफीम की फसल झुकने की संभावना कम हो जाएगी। जिन किसानों ने पिछले कुछ दिनों से अफीम में सिंचाई नहीं की है तो उन्हें मौसम में परिवर्तन से काफी फायदा होगा। कल से ही मौसम परिवर्तन में असर दिखाई देना शुरू हो जाएगा। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *