अविवाहित महिला ने दिया बच्ची को जन्म, बेज्जती के डर से उसे कचरे के ढेर में फेंक दिया।

युवती मेरठ निवासी है। समाजसेवी सविता आर्य ने बच्चे की मां को ट्रेस किया और पुलिस को सौंप दिया।


हरियाणा के पानीपत मैं शिवनगर मैं स्थित एक फैक्ट्री के पास कचरे के ढेर में बच्ची को फेकने वाली मां को पुलिस ने पकड़ लिया। युवती अविवाहित हे और वहां मेरठ में रहती है। युवती ने सोमवार को बच्ची को जन्म दिया और उसे छत से कचरे के ढेर में फेंक दिया। 


स्वास्थ्य विभाग टीम और पुलिस उस आरोपी मां को नहीं पकड़ सके वहीं दूसरी ओर समाजसेवी सविता आर्य ने आरोपी मां को ढूंढ निकाला और उसे पुलिस के हवाले सौंप दिया। पुलिस ने मां पर केस दर्ज कर लिया और बच्ची को सिविल अस्पताल में इलाज के लिए भेज दिया।


पुलिस की पूछताछ करने से उस मां ने बताया कि वह 21 साल की है और वह शिव नगर में अपने परिवार के साथ किराए से रहती है और वही फैक्ट्री में काम करती है। वही उस फैक्ट्री में एक 22 वर्षीय युवक से प्रेम प्रसंग चल रहा था।


वह युवक से 9 माह की गर्भवती थी। शादी से पहले ही गर्भवती होने की बात उसने अपने परिवार वालों से छुपाए रखी। और वही घर पर ही सोमवार रात बच्ची को जन्म दिया। बच्ची को जन्म देने के बाद पॉलिथीन में भरकर उसे कचरे के ढेर में फेंक दिया।

ऐसे पकड़ी गई आरोपी अविवाहित मां

सविता आर्य ने बताया कि शिवनगर में लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज को खंगाल रहीं थी। जिस जगह पर बच्ची मिली थी, वहां कैमरों में किसी की हरकतें नजर नहीं आ रही थी। जिस जगह बच्ची मिली थी, वहां पर एक मकान है। उस मकान में पूछताछ की गई तो दूसरी मंजिल पर एक युवती मिली। उसने बताया कि वह फैक्टरी में काम करती है और तबीयत खराब होने की वजह से काम पर नहीं गई है। सवालों के जवाब देने में असहज थी, जिससे उस पर शक गया। सख्ती से पूछताछ करने पर उसने बच्ची को फेंकने की बात कुबूल कर ली। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *