मंदसौर पशुपतिनाथ मेले में पार्किंग स्थल से हो रहीं हैं बाइक चोरी 2021

पशुपतिनाथ मेले के सामने खाली पड़े परिसर में नगर पालिका द्वारा पार्किंग व्यवस्था रखी गई है जहां पर रोजाना कई लोगों के विवाद हो रहे हैं। कोई अपनी बाइक के सामान चोरी होने से परेशान है तो कोई टकरा जाने से परेशान है। मेले में पहुंचने से पहले जनता को पार्किंग स्थल में अपनी गाड़ियां खड़ी करनी पड़ती है और वहां मौजूद नगर पालिका कार्यकर्ता को इसके लिए शुल्क भी चुकाना पड़ता है लेकिन इसके बाद भी गाड़ियां चोरी होने के लिए कोई जिम्मेदार नहीं है। दुर्व्यवहार के चलते विवादों का सामना भी करना पड़ रहा है। इसकी शिकायत प्रशासन पर गई है लेकिन अभी तक प्रशासन भी कोई कार्यवाही नहीं दिखा रहा है।

सिटी कोतवाली थाने में मेले से दो बाइक चोली होने के मामले दर्ज हुए हैं

सिटी कोतवाली पुलिस ने बताया कि थाने में मेला परिसर से बाइक चोरी होने के 2 मामले दर्ज हुए हैं। दोनों ही गाड़ियां चंद्रपुरा पार्किंग स्थल से चोरी हुई है। मंदसौर नगर पालिका ने मेला जरूर शुरू किया लेकिन आनन-फानन में मेले की तैयारियां होने के कारण नगर पालिका ठेका देने वालों को नियम व शर्तें तय करना और उनका पालन करवाना ही भूल गई है। इसका खामियाजा अब हर दिन पार्किंग स्थल में गाड़ी खड़ी करने वाले आम लोगों को भुगतना पड़ रहा है।इस पर नगरपालिका ने भी कहा है कि इसमें नगरपालिका की जिम्मेदारी नहीं है क्योंकि नगरपालिका ने इसका ठेका दिया है।

पार्किंग ठेकेदार लोगों के साथ दुर्व्यवहार कर रहा है

लोगों ने शिकायत दर्ज कराने के साथ साथ यह भी कहा है कि पार्किंग ठेकेदार लोगों के साथ दुर्व्यवहार कर रहा है। नगर पालिका ने चंद्रपुरा में वाहन पार्किंग का ठेका दिया है। इसमें वाहन खड़े करने पर लोगों से शुल्क लिया जा रहा है। इसके बावजूद भी पार्किंग स्थल से वाहनों की चोरी हो रही है। वाहन चोरी होने के बाद भी किसी की जवाबदेही तय नहीं की जा रही है। मेला देखने गए लक्ष्मी नारायण माली ने रिपोर्ट दर्ज कराई कि उनकी बाइक चंद्रपुरा मेला पार्किंग स्थल से चोरी हो गई है। एक रिपोर्ट और जनता कॉलोनी के विजय त्रिवेदी ने दर्ज करवाई है। इस तरह पैसे देने के बाद भी वाहन चोरी हो रहे हैं। अब नगर पालिका ने स्थानीय लोगों की पहचान के लिए वहां पर एक आदमी खड़ा किया है। बाकी को मेले में और पार्किंग स्थल में चोरी नहीं हो इसलिए अंदर नहीं जाने दिया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *