लुहारी में पानी खिंचते वक्त कुएं में गिरने से बच्चें की हुई मौत, कृपया अपने बच्चों को कुएं के पास नहीं जाने दे

 

ग्राम लुहारी में एक बच्चे की मौत की खबर सामने आई है जो एक कुएं से पानी खिच रहा था और पैर फिसलने के कारण उसकी मौत हो गई। दोपहर में खेत पर काम करने के दौरान जब एक छोटे बच्चे को प्यास लगी तो वह दौड़कर कुए के पास गया और रस्सी से केतली बांधकर कुएं से पानी खींचने लगा। जब वह कुवे से पानी खींचने लगा तो रस्सी छोटी पड़ गई और पानी भरने के लिए बच्चा कुएं में झुक गया। कुएं में अधिक झुकने के कारण उसका संतुलन बिगड़ गया और वह कुएं में जा गिरा। बच्चे को तैरना नहीं आता था और इस कारण पानी में डूबने से उसकी मौत हो गई। रेस्क्यू टीम को 2:30 बजे सूचना दी गई और उसके बाद बच्चे को कूंए से निकाला गया।

परिजनों के लिए कुएं से खिंच रहा था पानी

रेस्क्यू टीम मौके पर पहुंची और बच्चे को बाहर निकाला लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी क्योंकि बच्चे को तैरना नहीं आता था। परिजनों ने बताया कि वह खेत में काम कर रहे थे और इस दौरान उन्हें पानी की प्यास लगी। उन्होंने बच्चे से पानी पिलाने को कहा। बच्चा परिजनों को पानी पिलाने के लिए कुए से पानी खींचने लगा। इसी दौरान वहां कुएं में गिर गया। रेस्क्यू टीम ने सर्चिंग करके मृतक जतिन पिता कैलाश राठौड़ उम्र 16 वर्ष को बाहर निकाला गया। कुएं में पानी का लेवल 30 फीट तक था। इसी कारण डूबने से उसकी मौत हो गई। थाना प्रभारी जनक सिंह रावत ने कहा है कि मामले की जांच की जा रही है।

अपने बच्चों को खेत पर नहीं ले जाए

कोरोना महामारी के कारण लंबे समय से स्कूल बंद पड़े हैं इस कारण कुछ परिजन अपने बच्चों को लेकर खेत पर जा रहे हैं। परिजन खेत में कार्य करते रहते हैं और उनका बच्चों पर ध्यान नहीं देता है इस दौरान कई प्रकार की घटनाएं हो सकती है। अगर आप अपने बच्चे को खेत पर ले जा भी रहे हैं तो पूरी तरीके से उस पर नजर रखना जरूरी है। बारिश के मौसम में कहीं पर भी पैर फिसलने के अलावा जानवरों का भी बहुत डर रहता है और अगर ऐसे में बच्चे खेत पर जाते हैं तो डर और बढ़ जाता है। इसलिए जितना हो सके अपने बच्चों को घर पर ही रखें और अगर खेत पर ले जा रहे हैं तो पूरे समय अपने साथ रखे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *