Mandsaur amAnd Neemuch Mandi Bhav

मंदसौर और नीमच मंडी में दाम अच्छा मिलने के कारण  लहसुन की बंपर आवक हो रही है। नीमच और मंदसौर कृषि उपज मंडी में शनिवार को 20000 बोरी से अधिक लहसुन की आवक हुई है। अचानक आवक बढ़ने का कारण बेहतर दाम मिल रहे हैं। वर्तमान में मंडियों में सबसे अधिक लहसुन की आवक हो रही है। हालांकि पहले लहसुन के दाम बढ़ गए थे लेकिन अधिक आवक होने के कारण किसानों को फिर से कम दाम मिले हैं। मंडी के बाहर लंबी लंबी कतारें लग गई और किसानों की 2 दिन में बारी आ रही है।

प्रदेश में जानी जाती है कृषि उपज मंडी

मंदसौर और नीमच की कृषि उपज मंडी प्रदेश की बड़ी मंडियों में जानी जाती है। सिर्फ मंदसौर जिले के ही नहीं बल्कि यहां पर दूर-दूर से किसान अपनी उपज लेकर आते हैं। हालांकि व्यवस्थाएं सही नहीं होने के कारण किसानों को थोड़ी परेशानी का सामना करना पड़ता है लेकिन दाम अच्छे मिलने के कारण किसान इंतजार कर लेते हैं। मंदसौर नीमच कृषि उपज मंडी में शनिवार को उपज की अच्छी आवक हुई। नीमच मंडी में करीब 22621 बोरियों की आवक हुई है। इसमें सबसे अधिक लहसुन की आवक हुई है। इसके अलावा दूसरी उपज की भी अधिक आवक रहीं।

गेहूं और सोयाबीन की भी बंपर आवक हुई

लहसुन के अलावा गेहूं और सोयाबीन की आवक भी काफी अधिक रही जिससे धान परिसर में ढेर ही ढेर लग गए और शाम 5:00 बजे के बाद भी नीलामी चलती रही है। वहीं इन दिनों में मंडी में लहसुन की आवक काफी अधिक हो रही है लेकिन किसानों को अच्छे नाम नहीं मिलने के कारण उदास होना पड़ रहा है। किसानों का कहना है कि पिछले वर्ष जिले में अल्प वर्षा हुई थी जिसके कारण लहसुन का रकबा घट गया था। इसके अलावा खेतों में उग रही लहसुन में भी बीमारियों के कारण कमी आई थी फिर भी पूरे साल भर लहसुन का दाम नहीं मिल रहे हैं। किसानों को लंबी लाइनों में लगना पड़ रहा है। मंडी प्रशासन को व्यवस्थाओं में सुधार करना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *