Sarso ka bhav आज के सरसों का मंडी भाव मध्यप्रदेश गुजरात राजस्थान

0
43

Rajasthan Sarso ka Mandi Bhav ( सरसों का भाव आज का राजस्थान 2021)

Update : 07 August

मंडी का नाम न्यूनतम भाव अधिकतम भाव मॉडल भाव
Baran 7030 7150 7100
Dholpur 7000 7100 7050
Goluwala 6701 7130 7000
Lalsot(Mandabari) 6961 7370 7270
Malpura 7151 7700 7400
Nimbahera 6800 7176 7000
Pratapgarh 7000 7092 7046
Sawai Madhopur 6920 6920
Surajgarh 6850 6850
Suratgarh 6978 6966 6945
Vijay Nagar(Gulabpura) 6811 6900 6875

 


Sarso ka Bhav Madhya Pradesh 

Update : 07 August

मंडी का नाम न्यूनतम भाव अधिकतम भाव मॉडल भाव
Ajaygarh 6800 6900 6850
Betul 5850 6350 6271
Kalapipal 5500 6300 6200

 

Mandi Bhav Gujrat – Mustard (सरसों) Rate

Update : 07 August

मंडी का नाम न्यूनतम भाव अधिकतम भाव मॉडल भाव
Becharaji 6405 6755 6580
Deesa 6785 6860 6825
Deesa(Bhildi) 6625 6700
Dhanera 6600 6865 6732
Jasdan 5500 7500 7000
Mansa 6700 6875
Panthawada 6765 6795 6780
Rajkot 5250 6625 5900
Rajula 6850 6850
Siddhpur 6825 6860 6842
Unjha 6800 7010 6875
Vijapur 6205 6344 6263

 

 

* सरसों की खेती कैसे होती है

बुवाई का समय- 

इस फसल का बुवाई का समय 15 सितंबर से 15 अक्टूबर तक रखना बहुत ही लाभदायक होता है

 

sarso ke bhav
sarso ke bhav ke bhav jane free main madhya pradesh rajisthan gujrat[/caption]

 

बीज दर- 

इस फसल की बीज दर 3 से 4 किलो प्रति हेक्टयर रखना है तथा हाइब्रिड बीजो की बीज दर 1 किलो प्रति एक्टर रखना है और साथ ही यदि आप घर का बीज उपयोग में ला रहे हो तो आपको बीज उपचार अवश्य करना है और हाइब्रिड बीजों का उपयोग कर रहे हो तो उसमें इसकी आवश्यकता नहीं होती है

यदि इस फसल को आप कतार में बोलना चाहते हो तो कतार से कतार की दूरी 30 से 45 सेंटीमीटर होनी चाहिए और लाइन से लाइन की दूरी 10 से 15 सेंटीमीटर होनी चाहिए

 

सिंचाई का समय- 

सरसों की फसल में बुवाई के बाद दिए जाने वाले पानी के अलावा तीन और सिंचाई की आवश्यकता पड़ती है किंतु कुछ क्षेत्रों में तापमान में बदलाव के कारण सिंचाई की संख्या में वृद्धि या कमी हो सकती है और आपको सिंचाई भी तापमान की अनुकूल ही करनी है

इसमें आपको पहली सिंचाई फूलों के बनते समय और दूसरी सिंचाई फलियों के बनते समय तथा आखरी सिंचाई जब फलिया विकसित रूप में जाने वाली होती है उस समय करना है

 

विशेष बिंदु – 

कीटनाशक तथा खाद का उपयोग मिट्टी परीक्षण के बाद तथा रोगों की सही पहचान या किसी कृषि विशेषज्ञ जानकारी के बाद ही कीटनाशक व खाद का उपयोग करें 

 

mandsaur mandi bhav mandsaur mandi bhav jane hindi main[/caption]

Mandsaur Mandi Bhav 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here