मंदसौर जिले में कोरोना से राहत के बाद डेंगू का खतरा तेजी से बढ़ रहा है। मंदसौर की सीतामऊ तहसील में डेंगू का खतरा बहुत तेजी से बढ़ रहा है। मंदसौर शहर में डेंगू के 5 मरीज सामने आए हैं और मंदसौर में भी डेंगू ने दस्तक दे दी है और मंदसौर में 3 कॉलोनियों में डेंगू के पॉजिटिव सामने आए हैं। मंदसौर शहर में गुरुवार को लिए गए सैंपल में एक मरीज राम टेकरी, सुदामा नगर और एक तिरुपति नगर से सामने आया है। मंदसौर में डेंगू के मामले सामने आने के बाद मलेरिया विभाग और स्वास्थ्य अमला सतर्क हो गया है। मरीज आने के बाद स्वास्थ्य अमला और विभाग जिले में लारवा और फीवर के टेस्ट के लिए निकला और दिन भर स्वास्थ्य विभाग सर्वे में लगा हुआ है।

1 सप्ताह में आ चुके हैं 18 पाजिटीव मामले

धीरे धीरे मंदसौर में डेंगू के मामले, लगातार बढ़ते जा रहे हैं। इससे प्रशासन सतर्क हो गया है। सीतामऊ और मंदसौर शहर में डेंगू के मरीज तेजी से बढते जा रहे हैं। 1 सप्ताह में 18 पॉजिटिव मामले सामने आने के बाद भी मलेरिया और स्वास्थ्य विभाग रोकथाम नहीं कर पा रहा है। 18 में से 10 पॉजिटिव सीतामऊ में मिले हैं वही मंदसौर शहर में चार पॉजिटिव आ चुके हैं। इसके अलावा धूधडका, अमलावद और नांदवेल में एक-एक मरीज आ चुका है। मंदसौर सीतामऊ में डेंगू तेजी से फैल रहा है। आज पॉजिटिव लोगों में से सात पॉजिटिव मंदसौर सीतामऊ क्षेत्र में से हैं। मंदसौर में राम टेकरी, सुदामा नगर और तिरुपति नगर में एक एक पॉजिटिव मिले हैं।

स्वास्थ्य विभाग और मलेरिया अमला सर्वे कर रहा है

कोरोना से सबक लेने के बाद स्वास्थ्य विभाग और मलेरिया अमला डेंगू के मरीज आते ही सतर्क हो गया है और जगह-जगह जाकर लारवा और फीवर की जांच कर रहा है। शुक्रवार को मंदसौर और सीतामऊ में पहुंचा सर्वे किया। यहां पर लारवा और फीवर की जांच के अलावा फागिंग मशीन से धूआ भी किया गया लेकिन विभाग अभी तक डेंगू को रोकने के लिए विफल ही साबित हुआ है। जिले के अधिकांश गांवों में अभी तक सर्वे नहीं हुआ है। अभी सर्वे उन्हीं स्थानों पर चल रहा है जहां पर पॉजिटिव केस मिले हैं। अब बारिश का मौसम भी आ गया है तो खतरा और भी बढ़ सकता है इसलिए आप को सुरक्षित रहने और सावधान रहने की जरूरत है। बारिश में जितना हो सके अपने शरीर को सूखा रखें और साफ रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *