शुरू अनलाॅक की तैयारी:प्रशासन की गाइडलाइन, बिना नेगेटिव रिपोर्ट के नहीं खोल सकेंगे अपनी दुकान,कोविड-19 जांच कराने पहुंचे व्यापा

0
11

 

अब कोरोना वायरस से लोगों को राहत मिलनी शुरू हो गई है।देश में धीरे-धीरे केस में भी कमी हुई है इसके साथ ही प्रशासन ने 1 जून से शहर को धीरे-धीरे अनलॉक करने की तैयारी शुरू कर दी है जिसके तहत लोगों को कुछ गाइडलाइन का पालन करना होगा। जिसमें प्रमुख गाइडलाइन यह है कि जो भी व्यापारी व्यवसायी दुकानदार अपनी दुकान खोलेगा उसके पास अपने नेगेटिव रिपोर्ट होनी चाहिए, इसी के साथ शनिवार को व्यापारियों की जांच की गई। इधर आई एम ए ने तीसरे लहर को लेकर चिंता भी जाहिर कर दी है, 1 जून से अनलॉक को लेकर प्रशासन ने गाइडलाइन जारी कर दी है जिसके तहत अनलॉक की प्रक्रिया शुरू की जाएगी।

बच्चों के लिए जताई गई चिंता

धीरे-धीरे शहर को भले ही मान लो किया जा रहा हो लेकिन आई एम एस में बच्चों के लिए चिंता जताई है और कहा है कि बच्चों को फिलहाल घर पर ही सुरक्षित रखा जाए और कोरोनावायरस वारंट किया जाएगा।गाइड लाइन के अनुसार दुकानदार को अपनी नेगेटिव रिपोर्ट लानी होगी, दुकान पर मास्क पहन कर बैठना होगा, सिर्फ दुकान पर आने वाले ग्राहक को ही सामान बेचा जाएगा। शहर में शनिवार को करीब साढे 500 लोगों की कोरोना की जांच की गई।

नगर पालिका द्वारा शहर को सैनिटाइज किया गया,संक्रमण की चैन  को तलाशेंगे और रोक लगाएंगे।

आईएमए ने कोरोना की तीसरी लहर को लेकर चिंता जताई है, अभी कोरोना की तीसरे लहर के बारे में कहा जा रहा है कि यह बच्चों के लिए ज्यादा खतरनाक हो सकती है। इसमें भी प्रमुख रूप से यह कहा गया है कि 3 से 18 वर्ष तक के बच्चों को युवाओं को  सावधानी बरतनी चाहिए। 

इसका कारण यह बताया जा रहा है कि वरिष्ठजनों को या तो करोना हो चुका है , या फिर वे वैक्सीन ले चुके हैं। यही कारण है कि इनके खतरे की संभावना कम जताई जा रही है।प्रशासन द्वारा कहा गया है कि परिवार के किसी भी सदस्य को कोरोना होने पर पूरे परिवार को अपने घर में ही क्वारंटाइन किया जाएगा।

जिले में कपड़ा व्यापारियों द्वारा छूट के लिए आवेदन

अपने दुकानों को खोलने के लिए कपड़ा व्यापारी एसोसिएशन ने शनिवार को कलेक्टर मनोज पुष्प को ज्ञापन सौंपा है। इसमें उनके द्वारा मांग की गई सुबह 11:00 से शाम 5:00 बजे तक उनको दुकान खोलने की छूट दी जाए। 

9सब्जी व दूधवाले कोरोना पॉजिटिव

शनिवार को टीम द्वारा जिन 1318 लोगों के सैंपल लिए गए। उनमें सिर्फ सब्जियों दूध वालो को ही शामिल किया गया। जिनमें से 9 लोग कोरोना संक्रमित मिले हैं। इनकी जांच के लिए 15 टीमें लगाई गई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here