कोरोना से दहशत में पूरा गांव: 23 दिन में23 लोगों की कोरोना से मौत,अल्हेड में दहशत का महौल

0
9

 

•कोरोना के कारण मौतों का आंकड़ा बढ़ता जा रहा है लोगों में दहशत का माहौल भी बढ़ता जा रहा है पहले तो लोगों ने इसे हल्के में लिया बाद में लोग इसकी गंभीरता को समझ रहे हैं।ऐसे ही संक्रमण की रफ्तार को देखते हुए लोग डाउन तो लगा दिया गया है पर नीमच जिले में मनासा तहसील से केवल कुछ किलोमीटर की दूरी के पर गांव अल्हेड़ में 23 दिन में 23 लोगो कि कोरोनावायरस से मौत हुई है।

 गांव की आबादी 3857 के करीब है जिसमें तकरीबन 977 परिवार रहते हैं, गांव की हालत दिया है कि अभी तक सिर्फ और सिर्फ 350 लोगों ने ही वैक्सीनेशन करवाया है। अभी की हालत में 23 लोगों को आइसोलेशन वार्ड में रखा गया है।इसमें से 196 लोगों का टेस्ट कराया कराया गया है। मैं तेरा लोगों को बुखार है एवं पांच लोगों को सामान्य सर्दी खासी है।

गांव में दहशत का माहौल

गांव में जाने पर हमें पता चलता है कि लोग इस प्रकार डरे हुए हैं कि पूरे गांव में सिर्फ इक्का-दुक्का लोग ही बाहर मिलते हैं वह भी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए और मासिक   लगाए हुए, लोग इस कोरोनावायरस को इतनी गंभीरता से ले रहा है इसका पता हम इस बात से लगा सकते हैं कि लोग अपने ही गांव के लोगों एवं अपने पड़ोसियों की शव यात्रा और तक में नहीं जा रहे हैं। हम इस बात से भी लगा सकते हैं कि गांव के ही एक व्यक्ति शोभराम पाटीदार से जी से बात करने पर पता चलता है कि उन्होंने बताया कि गांव में पूरी तरह सन्नाटे का माहौल है वह अपने अंकल जी के बेटे जानकीलाल के देहांत पर शव यात्रा में भी नहीं जा सके उन्होंने बताया कि गांव में इस प्रकार देश का माहौल है कि घर के हि लोग एक साथ बैठकर बात भी नहीं करते,खाना खाने के लिए भी दूर-दूर बैठते हैं। 

दूसरे लोगों से बात करने पर पता चला है कि किसी ने बेटे की शादी ही रद्द कर दी तो किसी ने कोई और कार्यक्रम रद्द कर दिया गांव पूरी तरह से गांव में पूरी तरह सन्नाटे का माहौल है कोई भी बाहर नहीं देखा जा रहा है।

 वब सीरीज की शूटिंग के कारण फैला कोरोना

गांव वालों से बात करने पर हमें पता चलता है कि कुछ दिनों पहले यहां माया नगरी मुंबई से वेब सीरीज व्हाइट गोल्ड की शूटिंग के लिए यहां आए थे , गांव वालों का कहना है कि कोरोनावायरस का संक्रमण बाहर से आए कलाकारों की वजह से फैला है।

इसी बात पर मनासा तहसील के एसडीएम मनीष जैन द्वारा कहा गया है कि गांव में सभी मौतों का कारण कोरोनावायरस नहीं है गांव में सिर्फ 5 ही लोग संक्रमित थे इसके अलावा बाकी लोगों की मौत बिल्कुल ही सामान्य तरीके से हुई है लोग अफवाह ना फैलाएं एवं लोगों द्वारा फैलाई गई अफवाहों पर ध्यान ना दें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here