उत्तर प्रदेश में योगी सरकार द्वारा इन 5 धर्म स्थलों का किया जाएगा कायाकल्प, पर्यटकों को मिलेंगी नई सुविधाएं

 

योगी सरकार विंध्‍यांचल, चित्रकूट समेत पांच धर्म स्‍थलों की सूरत बदलने वाली है। योगी सरकार अब उत्तर प्रदेश का नक्शा ही बदल देने वाले हैं।इसके साथ नैमिषारण्य, शाकुंभरी देवी, शुक्र तीर्थ में पर्यटकों को नई सुविधाएं भी मिलेगी।योगी सरकार श्रद्धालुओं को धर्म स्‍थलों पर सुविधाओं और आध्‍यात्‍म का नया एहसास कराएगी।इन धार्मिक स्थलों में सड़क, पार्किंग, स्‍वच्‍छता से लेकर परिसर तक दिव्‍य और भव्‍य होगा।धार्मिक स्थलों में पर्यटकों की संख्या बढ़ाने के लिए योगी सरकार ने ये फैसला लिया है।

पश्चिम यूपी में पर्यटन बढ़ाने की योजना

शाकुंभरी देवी और शुक्र तीर्थ के जरिए पश्चिम यूपी में पर्यटन बढ़ाने की योजना सरकार बना रही है। इससे नैमिषारण्य से अवध, चित्रकूट से बुंदेलखंड और विध्यांचल से विंध्‍य क्षेत्र के धामिर्क पर्यटन को नई रफ्तार मिलेगी।अयोध्या में राम जन्मभूमि के दर्शन को आने वाले दर्शनार्थियों के लिए अच्छी खबर है। राम जन्मभूमि मंदिर प्रशासन जल्द ही रामलला के दर्शन को आने वाले श्रद्धालुओं की मूलभूत सुविधा को ध्यान में रखते हुए अमावा मंदिर ट्रस्ट के साथ मिलकर के निशुल्क व्यवस्था शुरू करने जा रहा है।इससे रामलला के दर्शन को आने वाले श्रद्धालुओं को निशुल्क सामान जमा करने, पीने का साफ पानी और बैठने के लिए छांव की व्यवस्था मिलेगी।

भक्तों को दी जाएगी नई सुविधाएं

योगी सरकार पर्यटन स्थलों का विकास करने के साथ-साथ भक्तों को भी कई सुविधाएं प्रदान करेगी।श्रद्धालुओं के टॉयलेट की भी निशुल्क व्यवस्था महावीर मंदिर पटना ट्रस्ट की शाखा अमाव मंदिर में उपलब्ध कराया जाएगा। श्री राम जन्म भूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के सदस्य डॉ अनिल मिश्रा के अनुसार महावीर मंदिर पटना के संरक्षक किशोर कुणाल से ट्रस्ट की चल रही है।अमावा मंदिर प्रशासन ने ट्रस्ट को सहमति दे दी है। जल्द ही कार्य शुरू हो जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *