लाठियों से पीटा ,बांधा भेड़े, गहने और नगदी लूट के दो आरोपीयों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

1
10

 

 कालूखेड़ा पुलिस ने बीते 5 एवं 6 फरवरी की मध्य रात्रि में ग्राम सेमलिया मगरे पर एक परिवार पर लाठी-डंडों से मारपीट कर उन्हें बांधकर भेड़े गहने एवं नगदी लूटने वाले दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है । पुलिस अधीक्षक सुनील पाटीदार एवं पुलिस अधीक्षक रविंद्र बिलवाल में सी एस पी कार्यालय में आयोजित पत्रकार वार्ता में बताया गया है कि पुलिस अधीक्षक गौरव तिवारी के निर्देशन एवं कालूखेड़ा थाना के प्रभारी विजय सनस के नेतृत्व में आरोपियों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों ने ग्राम सिमरिया मगरे पर एक परिवार पर लाठी डंडे से मारपीट की और उन्हें बांधकर उनके गहने लूट लिए।

पुलिस की टीम में कौन कौन शामिल था

 पुलिस अधीक्षक गौरव तिवारी के निर्देशन एवं कालूखेड़ा थाना के प्रभारी विजय सनस के नेतृत्व में उप निरीक्षक आरसी खड़िया, सहायक उप निरीक्षक जीएस चंद्रावत पीएस राणावत, प्रधान आरक्षक मुन्नालाल, महेश मिश्रा, आरक्षक होकम सिंह, राजेश पटेल, विष्णु चंद्रावत, रमेश खिंचावत, रविंद्रसिंह चौहान, राकेश पाटीदार ,लक्ष्मण नागदा ,मनोहर वाघेला, मुकेश पाटीदार, अजीत शुक्ला, देवीलाल गुर्जर ,प्रीतम चावला, अशोक पांडे, नरेंद्र पावरा ,आदिल मोहम्मद, कमलसिंह, ममता नागदा, लक्ष्मी कन्नौज मनमोहन शर्मा, विपुल भावसार एवं हिम्मत सिंह की टीम ने आरोपीयो को गिरफ्तार किया जिसमें गोवर्धन पिता भवरलाल मोगिया आयु 45 वर्ष एवं गोविंद पिता रामचंद्र मोगिया आयु 23 वर्ष थाना पिपलिया मंडी जिला मंदसौर को गिरफ्तार कर घटना में प्रयोग किए गए मोबाइल, घटना के समय पहने हुए कपड़े, अपराध में लूटा गया माल बरामद करने में सफलता पाई है ।

आरोपियों ने भेड़ों को जंगल में एकांत में छुपा दिया था

पत्रकार द्वारा जानकारी लेने पर उन्हें पता चला कि घटना के दौरान आरोपियों द्वारा लूटी गई करीब  400 भेड़ें जिन्हें आरोपियो के द्वारा मौके मिलने पर किसी वाहन से भरकर उन्हें जंगल स्थित एकांत  में छुपा दिया गया था जिन्हें बरामद कर लिया गया है। इसके अलावा जांच में घटना के प्राप्त साक्ष्य , एवं फॉरेंसिक साक्ष्य के आधार पर पुलिस   की जांच में यह पता चला कि ग्राम भाटखेड़ा में निवास करने वाले मोगिया जाति के लोगों के संबंध में यह जानकारी मिली की उक्त आरोपीगण अपराधिक किस्म के होकर इनके विरुद्ध कई थानों में अपराध दर्ज है जो एक गिरोह का संचालन करते हैं और सुनसान स्थानों पर रहने वाले लोगों के साथ अपराध घटित करते हैं ।एसएसपी नेम पत्रकारों के प्रश्न के उत्तर में बताया किइस वारदात में आरोपी हैं जिन्हें खोजा जा रहा है।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here