#मध्यप्रदेश: मार्च में लग सकती है आचार संहिता, फिर होने लगी है नगरीय निकाय चुनावों की चर्चाएं

0
8

 

मध्यप्रदेश में अब फिर से चुनाव का माहौल बन रहा है। चुनाव को लेकर प्रदेश में काफ़ी तेज़ी से तैयारियां चल रही है। मध्यप्रदेश में नगरीय निकाय चुनाव को लेकर एक बार फिर चर्चाएं शुरू हो गई है। जानकारी के अनुसार खबर मिल रही है चुनाव आने वाले हैं इसलिए  मार्च शुरुआत में ही आचार संहिता लग सकती है। प्रदेश में तैयारियां और आंकड़ों से पता चल रहा है कि चुनाव आने वाले 2 महिनों में हो सकतें हैं। उम्मीद लगाईं जा रही है कि नगरिय निकाय चुनाव अप्रेल महिने के बीच में हो सकते हैं। आंकड़े बता रहे हैं कि 3 मार्च से आचार संहिता लग सकता है। सभी अफसरों को संदेश दिया जा चुका है कि रूके हुए सभी कार्य जल्दी कर लो और जिनका उद्घाटन करना है,जल्दी से तैयारी कर लें।

पहले ही हो चुकी है एक साल की देरी

कोरोनाकाल चलने के कारण नगर निगम चुनाव में पहले ही एक साल की देरी हो गई है। ऐसे में 45 दिनों में चुनाव का नियम है, इसलिए अप्रैल के दूसरे सप्ताह में चुनाव होने की संभावना है। लेकिन वर्तमान की स्थिति देखी जाए तो चुनाव संभव नहीं नजर आ रहे हैं। गौरतलब है कि 26 दिसंबर 2020 को राज्य निर्वाचन आयुक्त बसंत प्रताप सिंह ने कहा था कि नगरीय निकाय चुनाव और त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव पर अब 20 फरवरी के बाद निर्णय लिया जाएगा।आंकड़ों का आकलन करने के बाद पाया गया कि कोरोना का संक्रमण लगातार बढ़ रहा है और लोगों के स्वास्थ्य की सुरक्षा को देखते हुए स्वतंत्र एवं निष्पक्ष चुनाव कराना वर्तमान परिस्थितियों में संभव नहीं हो पाएगा। चुनाव 2021 के बाद कराए जाने की बात कही थी।इसलिए संविधान के अनुच्छेद 243-K एवं 243-Z A में प्राप्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए नगरीय निकायों के दिसंबर -2020 एवं जनवरी-2021 में प्रस्तावित आम निर्वाचन, नगर परिषद नरवर जिला शिवपुरी को छोड़कर (माननीय उच्च न्यायालय के निर्णय अनुसार), 20 फरवरी 2021 के बाद कराए जाने की बात कही थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here