Kisan andolan

एमएसपी को लेकर किसान यूनियन लगाता सरकार का विरोध कर रहे हैं और इसको वापस लेने की मांग कर रहे हैं जिसको लेकर 8 दिसंबर को किसानों ने भारत बंद का आह्वान किया है जिसका समर्थन विभिन्न पार्टियों एवं नेताओं ने किया है ।

किसानों की मांग

किसानों की मांग है कि एमएसपी के लागू होने से मंडियों का महत्व खत्म हो जाएगा और किसान अपनी फसल का उचित मूल्य नहीं ले सकेगा क्योंकि सरकार ने फसल को मंडी के बाहर भी विक्रय के चरण लागू कर दिए हैं जिससे किसानों का कहना है कि अगर सभी मंडी के बाहर फसल विक्रय करेंगे तो इससे मंडी का महत्व खत्म हो जाएगा। और मंडी के बाहर व्यापारी अपनी मनमर्जी से फसल का नाम निश्चित करेंगे जिससे कि किसानों को कोई फायदा नहीं मिलेगा।

किसान आंदोलन का मंदसौर के किसानो ने किया समर्थन 8 दिसंबर को रहेगा मंदसौर बंद।

किसान यूनियन द्वारा किसान की मांग नहीं सुनने पर किसानों ने 8 दिसंबर को भारत बंद का आह्वान किया है जिसका कई दलों ने समर्थन भी किया है जिसको लेकर मंदसौर के किसान भाइयों ने भी इसे स्वीकार किया है और 8 दिसंबर को मंदसौर बंद रखने का ऐलान किया है ।

मंदसौर मैं किसान नेताओं ने कलेक्टर व एसपी से किसान आंदोलन को लेकर की चर्चा ।

किसानों ने किसान आंदोलन का समर्थन करते हुए मंदसौर में भी बंद का आह्वान किया है जिसको लेकर किसानों ने कलेक्टर मुख्यालय जाकर सरकार से इसे सफल बनाने के लिए चर्चा की कहां गया कि इसे शांतिपूर्ण तरीके से सफल बनाया जाए । 

कलेक्टर मनोज पुष्प ने कहा कि किसानों ने कहा कि 8 दिसंबर को भारत बंद का आह्वान किया गया है और उन्होंने कहां की किसानों ने आश्वासन दिया कि किसी तरह की जोर-जबर्दस्ती कराकर किसी भी दुकानदार को हम दुकान बंद का आह्वान नहीं करेंगे । वहअपनी मर्जी से दुकान बंद कर सकता है  । और उन्होंने कहा कि हम दुकानदारों और व्यापारी संगठनों से अपील करेंगे कि वह किसान आंदोलन में उनका  8 दिसंबर को भारत बंद का समर्थन करें । एवं कलेक्टर ने कहा कि अगर उन्होंने कुछ दंगों जैसा माहौल बनाने की कोशिश की तो उन्हें फिर सरकार द्वारा दंडित किया जाएगा ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *