शादी समारोह में इकट्ठा हुई 350 लोगों की भीड़, दर्ज हुई मेरठ की पहली FIR

0
10

Breaking News

सरकार द्वारा कोरोना काल में जो शादी समारोह के लिए नियम बनाए गए थे कि किसी भी शादी समारोह में 100 से ज्यादा मेहमान इकट्ठे नहीं हो सकते लेकिन लोग इनका पालन है नहीं कर रहे थे।इस पर उत्तर प्रदेश सरकार ने एक्शन लेना शुरू कर दिया है। अब जो भी उत्तरप्रदेश में नियमों का उल्लघंन करेगा उस पर सरकार अब सख्त कार्यवाही करेगी। इस पर पहले f.i.r. हमको मेरठ में देखने को मिली है।

परिवार वालों को शादी पड़ी महंगी

उत्तर प्रदेश के मेरठ में शादी समारोह के दौरान कोविड-19 गाइडलाइन का पालन नहीं किया और एक ही शादी समारोह में 350 से अधिक लोगों की भीड़ इकट्ठा हो गई जिनमें से किसी ने भी मास्क नहीं पहन रखा था और सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ा रखी थी लेकिन इस बार सरकार ने इसको नजरअंदाज नहीं किया और लोगों में भय पैदा करने के लिए एफ आई आर दर्ज करी गई। परिवार वालों को खुशियां महंगी पड़ गई।

सभी पर किया गया मुकदमा दर्ज

पुलिस ने वर वधु के पिता के साथी गेस्ट हाउस के मालिक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है और कुछ लोगों पर भी मुकदमा दर्ज किया है ‌। ए एस पी कैंट ईरज का कहना है कि नियमों में कहा गया है कि बैंड बाजे और सभी को मिलाकर 100 से ज्यादा व्यक्ति नहीं होने चाहिए लेकिन यहां पर तो 350 से भी ज्यादा लोग मौजूद थे।और किसी भी नियम का पालन यहां पर नहीं किया जा रहा था। इसलिए यहां कार्यवाही की गई है।

किस किस पर हुई एफ आई आर दर्ज

इस केस में वर वधु के पिता समेत तीन लोगों पर एफ आई आर दर्ज की गई है।मेरठ के लालकुर्ती स्थित बैजल भवन में शादी समारोह में लोगों ने ना मास्क लगा रखा था ना कोई सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर रहा था और भीड़ भी अत्यंत ज्यादा थी। शादी में कोई सेनीटाइजर की व्यवस्था भी नहीं की गई थी। मौके पर पहुंची पुलिस ने वहां के माहौल की वीडियो बनाई और अफसरों को सूचना दी।विश्व जिला और वीडियो के आधार पर पुलिस ने 3 लोगों के साथ वर वधू के माता-पिता पर भी मुकदमा दर्ज किया है।

कोविड गाइडलाइंस का पालन नहीं हो रहा था: एएसपी कैंट

शादी के लिए कलेक्टर से आवेदन तो लिया गया था लेकिन एफ आई आर दर्ज करने का कारण यह है कि यहां पर कोरोना के नियमों की बहुत ही ज्यादा धज्जियां उड़ रही थी किसी भी नियम का थोड़ा सा भी पालन नहीं किया जा रहा था। वहां पर शामिल लोगों की संख्या भी निर्धारित से काफी ज्यादा थी।

इस पर ए एस पी केंट का कहना है कि पहले ही कोरोना का दूसरा चरण शुरू हो गया है और इस तरफ जनता लापरवाही  बढ़ती जा रही है इसलिए हमको भी अब सतर्क रहना होगा और ऐसी स्थानों पर तुरंत जाकर एफ आई आर दर्ज करनी होगी वरना लोग अपनी लापरवाहीया कम नहीं करेंगे। अगर हम अभी से सतर्क नहीं हुए तो देश को फिर से बुरा समय देखना पड़ सकता है।

 

मेरठ में लगातार बढ़ रहे हैं कोरोना के केस

मेरठ की बात की जाए तो वहां पर कोरोना के केस काफी तेजी से बढ़ रहे हैं यहां बीते हुए 24 घंटों में 160 नए केस सामने आए हैं और यहां कुल मरीजों की संख्या 16659 हो गई है। बीते 24 घंटों में यहां पर दो मौतें भी हुई है ऐसा प्रशासन डर गया है और अब कोरोना के नियमों का उल्लंघन करने वालों पर कार्यवाही करने लगा है। अभी मेरठ में एक्टिव कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 1805 है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here