वाशिंगटन में हो रहे किसान आंदोलन के विरोध में महात्मा गांधी की मूर्ति खंडित की गई ,आंदोलन में दिखाई दिए खालिस्तानी झंडे ।

0
10

Kisan ki aavaj

भारत में आज किसान आंदोलन का आठवां दिन है किसान सरकार से यह तीनों बिल वापस लेने की मांग कर रहे हैं और कहीं जगह पर मार्ग बंद कर रखे हैं भारत में ही नहीं बल्कि विदेशों में भी इसका विरोध हो रहा है और बिल वापस लेने की मांग की जा रही है । जिसका फायदा अब देश विरोधी संगठन भी उठाने लगा है ।

कल कृषि कानून के खिलाफ का फायदा उठाते हुए कुछ देश विरोधी संगठनों ने आंदोलन का फायदा उठाते हुए राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की मूर्ति खंडित कर दी और उस पर कालीख पोत दी । भारत में कृषि आंदोलन का विरोध किया जा रहा है तो साथ ही उसका समर्थन अमेरिका द्वारा भी किया जा रहा है । जिसका फायदा उठाते हुए कुछ संगठनों ने इस वारदात को अंजाम दिया ।

वाशिंगटन डीसी और वर्जीनिया के आसपास कुछ सैकड़ों सिखों के साथ अन्य अमेरिका के नागरिक भी इस आंदोलन का विरोध कर रहे थे  और जिसको लेकर वह भारतीय दूतावास तक वाहन रैली निकाल रहे थे जिसको लेकर शनिवार को कुछ खालिस्तानी समर्थकों ने इस रैली में हिस्सा लिया और खालिस्तानी झंडे और पोस्टर दिखा कर वहां उस रेली में शामिल हो गए और भारत का विरोध करने लगे जिसमें महात्मा गांधी की प्रतिमा को खंडित कर दिया ।

वहीं दूसरी ओर भारतीय दूतावास ने पुलिस से शिकायत करते हुए कहा कि प्रदर्शनकारियों की आड़ में गुंडागर्दी करने वाले प्रदर्शन में हिंसा फैलाने की कोशिश की और साथ ही भारतीय दूतावास में कहा गया कि महात्मा गांधी मेमोरियल में महात्मा गांधी की मूर्ति को शनिवार के दिन खालिस्तानी समर्थकों ने खंडित कर दिया । साथ ही कहा कि प्रदर्शनकारियों की आड़ में गुंडागर्दी करने वाले लोग अशांति और हिंसा फैलाने की कोशिश कर रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here