कृषि मंडी में लोडिंग वाहन चालक के साथ हुई मारपीट, एसपी कार्यालय जाकर सौंपा ज्ञापन

0
11

 

मंदसौर कृषि उपज मंडी में एक किसान का एक लोडिंग वाहन चालक के साथ विवाद हो गया। विवाद जब ज्यादा बढ़ गया तो लोगों ने वाहन चालक के साथ मारपीट की और लोडिंग वाहन के कांच भी तोड़ दिए। इसके कारण सभी लोडिंग वाहन चालक आक्रोशित हो गए और पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंच कर उन्होंने एसपी से शिकायत दर्ज करवाई। शिकायत वाय डी नगर थाने में भी दर्ज करवाई गई है।

ट्रैक्टर पीछे देने से शुरू हुआ मामला

वाय डी नगर पुलिस ने बताया कि मामला ट्रैक्टर को रिवर्स लेने के दौरान वह लोडिंग वाहन से टकरा गया। इसी को लेकर लोडिंग वाहन चालक गोविंद पुत्र प्रभु लाल कहार निवासी शहर किला मंदसौर और बालू पुत्र देवीलाल गुर्जर निवासी लालघाटी के बीच विवाद हो गया। इसी बीच लोडिंग वाहन के सभी कांच तोड़ दिए गए। पुलिस ने गोविंद कहार द्वारा दर्ज करवाई गई शिकायत पर बालू गुर्जर को धारा 294, 506 और 427 में प्रकरण दर्ज किया है।

लोडिंग वाहन चालकों ने एसपी को सौंपा ज्ञापन

लोडिंग वाहन चालकों ने इस विवाद के बाद एसपी कार्यालय जाकर ज्ञापन सौंपा। उन्होंने कहा कि हम मंडी में लोडिंग वाहन चलाकर अपना जीवन व्यापन करते हैं लेकिन कोरोना काल के चलते कुछ समय के लिए कृषि उपज मंडी में कमेटी द्वारा किसानों का उपाय उनकी गाड़ी में ही नीलाम होने का आदेश जारी किया था उसी क्रम में हम मंडी में वाहन चलाकर किसान की उपज निलाम करवाते हैं  और इसी से हम अपनी आजिविका चलाते हैं लेकिन कुछ लोग मंडी कमेटी के सहयोग के नाम पर हमसे पैसे वसूली करते हैं किसानों से मुंह मांगे दामो 1500से 2000 रुपए तक की वसूली की जाती है। हम तीन पहिया और चार पहिया वाहनों में 500 से ₹600 में किसानों की उपज नीलाम करवाते हैं जिससे किसानों पर आर्थिक बोझ नहीं पड़ता। इन सबके चलते वह लोग हम से आए दिन विवाद करते रहते हैं।

अभी-अभी तीन पहिया वाहन चालक गोविंद कहार के साथ मारपीट की गई और उसकी गाड़ी के कांच तोड़ दिए गए। ज्ञापन सौंपने वालों में मिथुर कहार, जाबीर हुसैन, आमिर पठान, सदम, मुजफ्फर, बंटी, शरीफ, फिरोज, इकबाल, गोपाल, फरीद खान, राधेश्याम पंडित, रामचंद्र, गोविंद आदि उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here