मंदसौर के पशुपतिनाथ मंदिर में ऑटोमेटिक बजने वाली घंटी बनाई गई

मंदसौर शहर में भगवान श्री पशुपतिनाथ मंदिर के खुलने के बाद भी घंटी बजाने का सौभाग्य भक्तों को नहीं मिल रहा था और मंदिरों में घंटी बजाना बहुत ही शुभ माना जाता है तो मंदसौर के ही एक व्यक्ति ने ऑटोमेटिक घंटी बनाई जिसके द्वारा श्रद्धालुओं के हाथ ऊपर उठाते ही घंटी बजना शुरू हो जाएगी यानी बिना घंटी को छुए ही आप घंटी बजा सकते हैं इसकी वजह से आज से भगवान श्री पशुपतिनाथ मंदिर में घंटियों की गूंज सुनाई दी और मंदिर के पंडितों का यह भी कहना है कि ऐसी घंटियां भारत के सभी मंदिरों में लगाई जाए ताकि भक्त घंटी बजा कर अपने भगवान् की वंदना कर पाए
मंदसौर में ऑटोमेटिक घंटी बनाने वाले व्यक्ति और कोई नहीं नाहरु खान जी है जिन्होंने इससे पूर्व भी जिला अस्पताल में ऑटोमेटिक सेनीटाइजर मशीन दान करी है यह मंदसौर के एक लोकप्रिय समाजसेवी है इनके द्वारा है ऑटोमेटिक घंटी बनाई गई है घंटी को बचाने के लिए आपको बस अपना हाथ घंटे की आगे लगे सेंसर के वहां खड़ा करना है और सेंसर के वहां आपका हाथ जाते ही घंटी बजना शुरू हो जाएगी जिससे मंदिर में एक रोनक से आ जाती है इस मशीन में घंटी को एक कंट्रोलर से बांधा गया है और कंट्रोलर को सेंसर से जोड़ा गया है जैसे ही सेंसर के सामने कोई व्यक्ति अपना हाथ लाता है तो कंट्रोलर लीवर को अप डाउन करना स्टार्ट कर देता है जिसकी वजह से घंटी बजने लगती है इस घंटी का निर्माण मंदसौर के भव्य मंदिर पशुपतिनाथ मंदिर में करके नेहरू खान ने एक नई स्मृति बनाई है मंदिरों के सभी पुजारी एवं श्रद्धालु इस सुविधा से काफी खुश नजर आ रहे हैं क्योंकि घंटी के बिना भगवान श्री पशुपतिनाथ जी की आरती अधूरी सी थी और घंटी के पूनम बजने से के चेहरों पर खुशी देखने को मिली कि अब वह भगवान की पूजा घंटी बजा कर कर सकते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *